Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

अंधी हत्या के आरोपी को गिरफ्तार करने में मिली सफलता

0 51

खुद रस्सी से अपने आप को बांधकर पुलिस को गुमराह करने वाला आरोपी प्रेमी गिरफ्तार

सतना।पुलिस अधीक्षक व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतना के निर्देशन एवं एसडीओपी नागौद रवि शंकर पांडे के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी उचेहरा निरीक्षक के.के. शर्मा ने त्वरित कार्यवाही करते हुए हत्या के आरोपी को घटना के 36 घंटे के अंदर गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त किया

घटना का विवरण:
दिनांक 17.09.20 को थाना उचेहरा क्षेत्र के ग्राम बरहटा में हत्या की सूचना पर पहुंची पुलिस को सूचनाकर्ता फूलचंद केवट पिता पूसू केवट उम्र 50 साल निवासी ग्राम बरहटा थाना उचेहरा ने सूचना दिया की दिनांक 16.09.20 को करीबन 10:00 बजे रात वह अपनी पत्नी मीना केवट उम्र 43 साल को खेत में बने झोपड़ी में छोड़कर अपने गांव वाले घर चला गया था सुबह 6:00 बजे वापस झोपड़ी आया तो देखा कि मीना झोपड़ी में रजाई से ढकी पड़ी थी,रजाई हटाकर देखा तो मीना की नाक सिर और गर्दन में दाहिने तरफ धारदार हथियार से चोटें लगी थी काफी खून बह रहा था और वह मर चुकी थी।किसी अज्ञात व्यक्ति ने धारदार हथियार से मारकर उसकी हत्या कर दिया है।फरियादी की रिपोर्ट पर मौके पर जीरो पर देहाती नालसी धारा 302 भा.द.वि. की लेख कर वरिष्ठ अधिकारियों,एफएसएल यूनिट,डॉग स्कॉट व साइबर सेल सतना को सूचित कर मौके से जांच शव पंचनामा,घटनास्थल निरीक्षण पश्चात शव का पी.एम. कराया गया एवं थाना पर असल नंबर पर अपराध क्रमांक 361/20 धारा 302 ताहि का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।दौरान विवेचना घटनास्थल के आस पास व गांव के लोगों से पूछताछ करने पर मौके पर ज्ञात हुआ कि घटना दिनांक की रात्रि में रामपाल केवट भी मृतिका के साथ झोपड़ी में था तथा सुबह वह पास ही नदी में रस्सी से बंधा हुआ मिला था जिसको सतना जिला अस्पताल ले जाया गया है तब रामपाल केवट से पूछताछ की गई तो वह झूठ बोल कर व बहाना बनाकर सतना में सब्जी के आढतिया सभापति कुशवाहा तथा एक अन्य आदमी द्वारा मृतिका को मारना तथा उसे रस्सी में बांधकर नदी में पटक देना बताता रहा जिसके कथन में काफी विरोधाभास था फिर भी सभापति कुशवाहा से पूछताछ की गई जिसने घटना में शामिल होने से इनकार किया तथा घटना वाली रात अपने घर पर ही परिवार के साथ होना बताया जिसकी तस्दीक करने पर सही पाया गया तब संदेही रामपाल केवट से वरिष्ठ अधिकारियों तथा थाना स्टाफ द्वारा हिकमत अमली से पूछताछ की गई जिसने अपना जुर्म कबूल कर लिया तथा मृतिका मीना केवट की बेवफाई के कारण घटना दिनांक 16.09.20 की रात उससे कहासुनी होने पर वही रखें गढ़ासे से 4-5 वार मुंह व गर्दन पर किए जिससे उसकी मौत हो गई।आरोपी रामपाल केवट झूठ बोलकर स्वयं बचना चाहता था तथा सभापति कुशवाहा को फसाना चाहता था।आरोपी के मेमोरेंडम के आधार पर घटना में प्रयुक्त आलाजरब बरामद कर आरोपी की विधिवत गिरफ्तारी की गई।आरोपी द्वारा अपनी जमीन बेचकर लाखों रुपए मृतिका को देने के बाद भी बेवफाई करने वाली प्रेमिका की उसके प्रेमी द्वारा की गई हत्या।

जप्त सामग्री:
घटना में प्रयुक्त एक नग गढ़ासा,आरोपी के खून आलूदा कपड़े,एक पुरानी डायरी जिसमें आरोपी प्रेमी द्वारा प्रेमिका की बेवफ़ाई का विवरण लिखा है।

नाम पता आरोपी-:
रामपाल केवट पिता ददुल्ला केवट उम्र 44 साल निवासी ग्राम बरहटा थाना उचेहरा जिला सतना।

सराहनीय योगदान:
निरीक्षक के.के. शर्मा थाना प्रभारी उचेहरा, उ. नि. गोपाल चौबे थाना प्रभारी कोठी,उ.नि. बिशन सिंह मरावी,उपनिरीक्षक अजीत सिंह,सउनि. के एल वर्मा, प्रधान आरक्षक दीपेश कुमार,आरक्षक अभिषेक पांडे,आरक्षक रमाकांत तिवारी,आरक्षक प्रदीप मिश्रा, महीप तिवारी,प्रमोद गुप्ता,सुनील सांवरिया का सराहनीय योगदान रहा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.