Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

अमरपाटन का अतिक्रमण लोगों के लिए नासूर बना

0 52

संवाददाता योगेंद्र कुमार मिश्रा अमरपाटन

अतिक्रमण लोगो के लिए नासूर वना हुआ है शासकीय जमीन आराजी नंबर 99 पर दबंग के द्वारा दुकान बनाकर लाखो रूपये कमा रहे है जबकि उसी स्थान पर पूर्व एस डी एम रिषभ गुप्ता के द्वारा दुकान गिरा दी गई थी इसी प्रकार से सुभाष काम्पलैक्स के पीछे जोकि अमरपाटन का मुख्य नाला है उसके उपर दो मंजिला मकान का निर्माण हो गया चार मंजिला धर्मशाला का निर्माण हो गया लेकिन नगर पंचायत अमरपाटन मौन बना रहा सुभाष काम्पलैक्स की जमीन पर प्राईवेट जमीन पर लोग कब्जा कर घर वना लिए किन्तु प्रशासन मौन मात्र नोटिस कार अपना दयितव पूरा कर लेते है इसी प्रकार से औंधा गढी व मेढ कर दबंग के द्वारा अतिक्रमण कर । मकान बनाकर रह रहे है किन्तु संबंधित अधिकारी मौन जबकि इस गढी का मुआयना कर एस डी एम द्वारा इनका निरिक्षण कर इनको बेदखल करने का आदेश दिया था लेकिन बह भी टाय टाय फिस्स हो गया पुरानी बस्ती के विधालय की जमीन पर लोग घर वनाकर बेंच रहे है इसी प्रकार से रीवा रोड अमरपाटन मे धर्मशाला के संचालक के द्वारा दुकान बनवाकर लोगो को पगडी लेकर बह भी बिना लिखा पढी के पैसा लेकर दुकान किराए पर लिए है रीवा रोड मे ही दुर्गा मंदिर के सामने पुराने पार्क मे लोग कब्जा कर गोमती रखे है जबकि छ वर्ष पूर्व नगर पंचायत अधयक्ष राकेश कुमार ताम्रकार के द्वारा दुकान निर्माण करवाने का भूमि पूजन किया जा चुका है लेकिन वर्षों बीत गया भूमि पूजन करके रह गए सतना रोड मैहर रोड रामनगर रोड का अतिक्रमण देखा जा सकता है लाकडाउन हटते ही गांधी चौक मे ठेला वालो का कब्जा देखा जा सकता है इसी प्रकार से तहसीलदार अमरपाटन नगर पंचायत अमरपाटन व थाना प्रभारी के द्वारा सब्जी मंडी को कृषि उपज मंडी प्र॔गड मे लगाने का निर्देशित दिया था बहां पर दुकान लगने लगी थी किन्तु लाकडाउन के हटते ही जगह जगह सब्जी की दुकान सजने लगी अमरपाटन का अतिक्रमण न हटने का कारण नगर पंचायत एस डी एम तहसीलदार अमरपाटन थाना प्रभारी अमरपाटन का आपस में तालमेल न होना वताया जाता है अतिक्रमण कारियों के लिए अमरपाटन स्वर्ग वना है अबला की चीर की तरह शासकीय जमीन पर अतिक्रमण होता चला जा रहा है किन्तु शासकीय अमला निष्क्रिय बना हुआ है इसी प्रकार से नादन टोला पडकका मे लघु उद्योग निगम रीवा की जमीन पर लोगो के द्वारा वीसो एकड पर कब्जा कर रखे हैं किन्तु हलका पटवारी नादनटोला व तहसीलदार अमरपाटन के रहमो करम से इनको अभयदान मिला है। अतिक्रमण के चंगुल मे फंसा अमरपाटन अतिक्रमण के चंगुल से निकलने मे फडफडा रहा है किन्तु संबंधित अधिकारी मौन साधे हुए है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.