Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

आक्रोशित किसानों ने उठाई आरोपियों के विरुद्ध दंडात्मक कार्यवाही की मांग

0 18

थाना प्रभारी पाटन पर किसान से गाली गलौज करने का आरोप

जबलपुर। सरकारी रिकॉर्ड में जमीन पर मालिकाना हक दर्ज होने के बावजूद वास्तविकता यह है कि अपनी जमीन पर कब्जे के लिए केहरी पटेल भटक रहे हैं। उन्हें पाटन थाना, सिविल कोर्ट, रेवेन्यू विभाग से लेकर एसपी ऑफिस तक के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं।
शुक्रवार 19 तारीख को उनके साथ किसानों का एक दल ग्राम थाना से एसपी ऑफिस जबलपुर पहुंचा और एसपी ग्रामीण को थाना प्रभारी पाटन शिवराज सिंह समेत उन आठ आरोपियों के विरुद्ध कार्यवाही की मांग करने के लिए शिकायत पत्र सौंपा, जिन्होंने मौके पर उसकी जमीन को अपने कब्जे में ले रखा है। उसे जोत बो रहे हैं और उस भूमि का उपयोग कर रहे हैं। ग्राम थाना पटवारी हल्का नंबर 10 बटा 24 पाटन तहसील के अंतर्गत खसरा नंबर 191 की भूमि जिसका रकबा 1.46 हेक्टेयर है। इस पर आवेदक की गेहूं की फसल लगी थी जिसे अन आवेदक गणों द्वारा चोरी से काट लिया गया। इस पर पुलिस ने अब तक चोरी की एफ आई आर दर्ज नहीं की है। माननीय न्यायालय का आदेश भी जारी हुआ किंतु इसके बावजूद अब तक न केवल चोरी की एफ आई आर दर्ज नहीं हुई बल्कि अन आवेदक द्वारा लगातार भूमि का उपयोग किया जा रहा है। अब उस भूमि पर बखन्नी कर अगली फसल के लिए तैयारी चल रही है। जिसे लेकर किसान के मन में काफी पीड़ा है। विगत 18 तारीख को किसान के द्वारा अपने वकील के माध्यम से एसपी ऑफिस में ज्ञापन दिया गया था। एसपी साहब ने एसडीओपी पाटन को जांच के लिए आदेशित किया था। एसडीओपी पाटन जांच के लिए थाना प्रभारी पाटन को मौके पर जाकर निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए कहा। जब किसान व आवेदन पत्र लेकर थाना प्रभारी पाटन के पास गया तो किसान के मुताबिक थाना प्रभारी पाटन ने उनसे अभद्रता की गाली गलौज की और उन्हें राहत मिले ऐसा कोई कार्य नहीं किया। इस से पीड़ित होकर दूसरे दिन किसानों का एक दल एसपी ऑफिस पहुंचा। उन्होंने एसपी ग्रामीण को थाना प्रभारी पाटन समेत सभी आरोपियों के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई किए जाने का आशय का ज्ञापन सौंपा। इस विषय में एसपी ग्रामीण ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि मामला अभी अभी उनके संज्ञान में आया है और इसकी निष्पक्ष जांच की जाएगी और दोषियों के विरुद्ध उचित कार्रवाई की जाएगी। मीडिया से बात करते हुए पीड़ित किसान की ओर से अधिवक्ता डीके पटेल ने बताया कि उनके पक्ष कार के साथ लगातार ज्यादती हो रही है। अनावेदक उनकी जमीन उपयोग कर रहे हैं और थाना प्रभारी भी उनकी कोई सहायता नहीं कर रहे हैं। उन्हें न्याय की तलाश है, उम्मीद है कि पुलिस इस मामले में उचित कार्रवाई करेगी और दोषियों को दंड देगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.