Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

उचित समन्वय और बेहतर कार्य योजना से पावर जनरेटिंग एवं ट्रांसमिशन कंपनी लक्ष्यों को करे अर्जित: प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे

0 25

उपभोक्ताओं को 24 घंटे और कृष‍ि उपभोक्ताओं को 10 घंटे सतत् व गुणवत्तापूर्ण बिजली प्रदाय करना सर्वोच्च प्राथम‍ि‍कता

जबलपुर। मध्यप्रदेश शासन के प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे ने आज बिजली कंपनियों के मुख्यालय शक्त‍िभवन में मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग एवं पावर ट्रांसमिशन कंपनी की समीक्षा करते हुए कहा कि प्रदेश के घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को 24 घंटे और कृष‍ि उपभोक्ताओं को 10 घंटे सतत् व गुणवत्तापूर्ण  बिजली प्रदाय करना सर्वोच्च प्राथम‍ि‍कता है। पावर जनरेटिंग कंपनी के ताप व जल विद्युत गृह अपनी क्षमता का भरपूर उपयोग करते हुए बिजली उत्पादन करें और पावर ट्रांसमिशन कंपनी गुणवत्तापूर्ण वोल्टेज से निर्बाध बिजली आपूर्ति की गति को बरकरार रखे। श्री दुबे ने आज पावर जनरेटिंग व ट्रांसमिशन कंपनी के कार्यों की समीक्षा की और भविष्य के लक्ष्यों पर विचार किया। बैठक में पावर ट्रांसमिशन कंपनी के प्रबंध संचालक श्री पीएआर बेन्डे, जनरेटिंग कंपनी के प्रबंध संचालक श्री मनजीत सिंह, जनरेटिंग कंपनी के डायरेक्टर श्री ए. के. टेलर, ऊर्जा व‍िभाग के व‍िशेष कर्त्तव्यस्थ अध‍िकारी श्री एस. के. शर्मा, ऊर्जा व‍िभाग के उपसचिव श्री नीरज अग्रवाल, पावर मैनेजमेंट कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक श्री राजीव केसकर सहित अन्य वरिष्ठ अभ‍ियंता उपस्थि‍त थे।

प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री संजय दुबे ने कहा कि पावर जनरेटिंग कंपनी के ताप विद्युत गृहों का वार्ष‍िक मेंटेनेंस निर्धारित समय पर आवश्यक रूप से हो जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि रबी सीजन में ताप विद्युत इकाईयों का पूर्ण क्षमता से बिजली उत्पादन सर्वोच्च प्राथमिकता है। पावर जनरेटिंग कंपनी के प्रबंध संचालक श्री मनजीत सिंह ने पावर पाइंट प्रजेन्टेंशन के माध्यम से ताप व जल विद्युत गृहों के उत्पादन व अन्य पहलुओं पर प्रस्तुतिकरण द‍िया। प्रमुख सचिव ऊर्जा ने ताप व जल विद्युत गृहों के बिजली उत्पादन, रबी सीजन में विद्युत गृहों के उत्पादन कार्यक्रम, विद्युत गृहों में कोयले की आपूर्ति और विद्युत गृहों के आधुन‍िकीकरण व नवीनीकरण की समीक्षा करते हुए कहा कि बेहतर कार्यन‍िष्पत्त‍ि से ही लक्ष्य को अर्जित किया जा सकता है। प्रमुख सचिव ऊर्जा ने पावर ट्रांसमिशन कंपनी को निर्देश दिए क‍ि वे पूरे प्रदेश में निर्माणाधीन सब स्टेशनों और अति उच्चदाब लाइनों के कार्य को पूर्ण करने को सर्वोच्च प्राथमिकता दें। समीक्षा बैठक में प्रमुख सचिव ऊर्जा ने चालू व‍ित्तीय वर्ष में न‍िर्धारित सब स्टेशनों के निर्माण कार्य की प्रगति, ओवरलोड सब स्टेशनों, अति उच्चदाब लाइनों, पावर ट्रांसफार्मर, रेल्वे ट्रेक्शन के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि उचित समन्वय और बेहतर कार्य योजना से निर्धारित लक्ष्य अर्जित क‍िए जाएंगे।   

Leave A Reply

Your email address will not be published.