Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

कोरोना वायरस से घबरायें नहीं, सावधानी बरतें, सतर्क रहें: डॉ. जटिया

0 20

बैठक में स्वास्थ्य विभाग को तैयारियाँ पुख्ता रखने के निर्देश

मण्डला। योजना भवन में कलेक्टर डॉ. जगदीश चन्द्र जटिया की अध्यक्षता में कोरोना वायरस के प्रभाव, जागरूकता एवं महत्वपूर्ण जानकारियों से संबंधित बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि वायरस के संक्रमण से निपटने सभी जरूरी तैयारियाँ पुख्ता रखी जाये। उन्होंने कहा कि इलाज के लिए दवाईयाँ, कोरोना वायरस की संभावना दिखने पर मरीज के लिए अलग से आवश्यक व्यवस्थाऐं एवं विशेषज्ञों की टीम को तैयार रखा जाये। डॉ. जटिया ने कहा कि कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए हम सभी को जागरूक एवं सतर्कता बरतना होगा। उन्होंने कहा कि आमजन भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर अनावश्यक जाने से बचें। उन्होंने सभी विभाग प्रमुखों को अपने अधीनस्थों के माध्यम से कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने दिशा-निर्देश प्रसारित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मैदानी अमले को अपने स्तर पर लोगों को जागरूक करने के लिए निर्देशित किया है। उन्होंने बताया कि जिले में बाहर से आये 2 लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण की संभावना के आधार पर विशेष निगरानी पर रखा गया है।

लक्षण एवं आवश्यक सावधानियाँ-

बैठक में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए जरूरी जानकारियाँ दी गई जिसमें बताया गया कि मरीज में कोरोना वायरस के संक्रमण के दौरान मुख्यतः सर्दी, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, गले में खरास आदि लक्षण दिखाई देते हैं। इस वायरस से मुख्यतः विदेश यात्रा या बाहर से आने वाले व्यक्तियों के संक्रमित होने की अधिक संभावना होती है। बैठक में बताया गया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए नियमित अंतराल पर हाथ धोना चाहिए, भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचना चाहिए, सर्दी-जुकाम या छींकते समय साफ रूमाल का प्रयोग अवश्य करना चाहिए। कोरोना वायरस से संबंधित विस्तृत जानकारी के लिए टोल फ्री हेल्पलाईन नंबर 104 पर संपर्क किया जा सकता है।

स्वास्थ्य विभाग की तरफ से नियुक्त मॉडल नोडल ऑफिसर कोरोना वायरस डॉ. विजय मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा हरसंभव तैयारियां सुनिश्चित की गई है। जिला चिकित्सालय में संभावित मरीजों के लिए आईसोलेशन वार्ड बनाया गया है। साथ ही दवाईयाँ, जरूरी जाँच एवं विशेषज्ञों की टीम तैयार की गई है। उन्होने बताया कि कान्हा राष्ट्रीय उद्यान क्षेत्र में बाहर से आने वाले पर्यटकों की प्रारंभिक जांच के लिए केन्द्र स्थापित किया गया है। बैठक में डिस्ट्रिक्ट एपेडमिक ऑफिसर राजेन्द्र वर्मा ने पीपीटी के माध्यम से कोरोना वायरस से संबंधित विस्तार से जानकारी दी। बैठक में जिला पंचायत सीईओ तन्वी हुड्डा सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी, जिला अधिकारी तथा संबंधित उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.