Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

कोविड-19 के चलते परेशान हो रहे हैं कर्मचारी।

0 17

ऑल इंडिया डिफेंस एम्पलाइज फेडरेशन ने उठाई कर्मचारियों के हित की आवाज

जबलपुर– कोरोनावायरस की वैश्विक महामारी केे चलते पूरा विश्व विषम परिस्थितियों से गुजर रहा है और इस दौरान हर संस्थान मुश्किलों के दौर से गुजर रहा है। इस दौरान हर संस्थान में कार्यरत बड़े अधिकारी और प्रबंधक स्वयं को तो सुरक्षित कर लेते हैं परंतु जो कर्मचारी काम करते हैं। उनके लिए स्वयं उन्हें ही बात करनी पड़ती है लड़़ाई लड़नी पड़ती है। आल इंडिया डिफेंस एंप्लाइज फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एसएन पाठक जी ने बताया कि कोविड-19 संक्रमण के लॉकडाउन के कारण सरकारी कर्मचारियों को अनावश्यक परेशानियों से गुजरना पड़ा है शासकीय कर्मचारियों की इस परेशानियों/ समस्याओं के निराकरण हेतु डीओपीटी, रक्षा मंत्रालय, वित्त मंत्रालय, गृह मंत्रालय को पत्र लिखा गया है । पत्र में कहा गया है कि कोविड-19 लॉकडाउन पीरियड के दौरान रक्षा कर्मचारियों सहित केंद्रीय कर्मचारियों ने बहुत सारी परेशानियों समस्याओं का सामना किया है ऑल इंडिया डिफेंस एम्पलाइज फेडरेशन कर्मचारियों के हितों की रक्षा के लिए कोविड-19 संक्रमण के दौरान भी लगातार काम करता रहा तथा समय-समय पर कर्मचारियों की समस्याओं को सरकार के समक्ष प्रस्तुत करता रहा। लॉकडाउन पीरियड की कुछ महत्वपूर्ण समस्याओं का उल्लेख यहां करना आवश्यक है जैसे कि लॉकडाउन पीरियड में कार्यालयों कारखानों में न्यूनतम उपस्थिति में काम कराया गया धीरे-धीरे कार्यालयों का संख्या बल 100% तक पहुंचाया गया परंतु अभी भी कुछ क्षेत्र कंटेनमेंट में है ऐसे क्षेत्रों में रहने वाले कर्मचारी पब्लिक ट्रांसपोर्ट का उपयोग कर कार्यस्थल पर पहुंचने वाले कर्मचारी की उपस्थिति का नियमितीकरण, लॉकडाउन के प्रारंभ के पहले या लॉकडाउन के दौरान अपने गृह नगर को गए हुए कर्मचारियों की उपस्थिति का नियमित करना, लॉकडाउन पीरियड के दौरान पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद होने के कारण बहुत से कर्मचारी कार्य स्थल पर पहुंचने में असमर्थ रहे ऐसे कर्मचारियों को स्पेशल कैजुअल लीव का प्रावधान। लॉकडाउन पीरियड में क्रेज की अनुपलब्धता के कारण भी बहुत से कर्मचारी कार्य स्थल पर नहीं पहुंच सके ऐसे कर्मचारियों को work-from-home माना जाए। 50 वर्ष से अधिक कर्मचारियों को बिना मेडिकल सर्टिफिकेट के छुट्टी का नियमितीकरण प्रदान किया गया था यह सुविधा अगले 6 महीनों के लिए बढ़ाई जाए । कोविड-19 संक्रमण के कारण सेवारत कर्मचारी का संक्रमण के कारण निधन हो जाने पर ₹50 लाख का विशेष इंश्योरेंस कवर दिया जाए । इत्यादि मांगों के साथ एक विस्तृत पत्र सभी संबंधित मंत्रालयों को भेजा गया है जिसके माध्यम से एक कंसोलिडेट गाइडलाइन तैयार कर संबंधित आदेश जारी करने हेतु मंत्रालयों से निवेदन किया गया है जीसीएफ मजदूर संघ हथोड़ा के मिठाई लाल रजक, रोहित यादव, राजा पांडे, उत्तम विश्वास, अमित चंदेल ,आशीष विश्वकर्मा, बीरबल ,गोपाल आनंद, कुमार संजय ,रितेश ,अमित गुप्ता, पप्पू तोमर, रवि शाह इत्यादि कर्मचारी नेताओं ने कर्मचारी हितों के लिए संघर्षरत रहने का वादा करते हुए कर्मचारी साथियों को संक्रमण से सुरक्षित रहने का आवाहन किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.