Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

तीन माह के बच्चे सहित 10 लोगों ने जीती कोरोना से जंग अस्पताल से हुए डिस्चार्ज

0 15

आज मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब और आईसीएमआर लैब से आज सोमवार की शाम 61सेम्पल की रिपोर्ट प्राप्त हुई हैं । परीक्षण में ये सभी सेम्पल निगेटिव पाये गये हैं ।

जबलपुर।कोरोना से जंग जीतने वाले तीन माह के बच्चे और उसकी माँ शहाना बानो सहित आज सोमवार को मेडिकल कॉलेज के सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल से पाँच तथा सुखसागर कोविड केयर सेंटर से भी पाँच लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया है । कोरोना से स्वस्थ होने मेडिकल कॉलेज से डिस्चार्ज किये गये लोगों में शहाना और उसके तीन माह के बेटे के अलावा सरबरी बी, गुलाम गौस और अकबरी बेगम शामिल हैं । आगाचौक निवासी शबाना और उसके तीन माह के बेटे को कोरोना पॉजिटिव मिलने पर उपचार के लिये मेडिकल कॉलेज के सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था और आज उन्हें स्वस्थ होने पर छुट्टी दे दी गई ।
मेडिकल कॉलेज के सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल से डिस्चार्ज किये गये कोरोना से स्वस्थ हुए इन पाँच लोगों में शहाना और उसके बेटे को तथा सरबरी बी एवं गुलाम गौस को चौदह या इससे अधिक दिन की आइसोलेशन की अवधि पूरी होने पर सीधे घर भेज दिया गया है । जबकि अकबरी बेगम को नई गाईड लाइन के मुताबिक दस दिन के आइसोलेशन की अवधि पूरी होने और कोई भी लक्षण नहीं दिखाई देने पर अगले सात दिन के लिये सुखसागर स्थित क्वारेन्टीन सेंटर भेजा गया है ।
मेडिकल कॉलेज के अलावा आज सोमवार को सुखसागर कोविड केयर सेंटर से भी पाँच लोगों को डिस्चार्ज किया गया है । नई गाईड लाइन के अनुसार डिस्चार्ज किये गये इन पाँचो को अगले सात दिन के लिये सुखसागर में ही क्वारेन्टीन में रखा जायेगा । कोरोना से स्वस्थ होने पर सुखसागर कोविड केयर सेंटर से डिस्चार्ज किये गये व्यक्तियों में मोहम्मद जिलानी, मुजीबुल्लाह अंसारी, मोहम्मद खालिद, मोहम्मद इरशाद और सोनू शामिल है ।
इन्हें मिलाकर जबलपुर में अब तक कोरोना संक्रमित पाये गये 213 मरीजों में से 150 स्वस्थ हो चुके हैं और जबकि नौ व्यक्तियों की मृत्यु हो गई है । जबलपुर में कोरोना के एक्टिव केस अब 54 रह गये हैं ।

कल रविवार 24 मई को सुखसागर कोविड केयर सेंटर से 11 व्यक्तियों को ही डिस्चार्ज किया गया था । सुखसागर कोविड केयर सेंटर से रविवार को डिस्चार्ज किये गये व्यक्तियों की सूची में त्रुटिवश के विद्या का नाम भी शामिल हो गया था । जबकि वे तीन बर्षीय के सरन्या के अटेंडेंट के तौर पर वहाँ थी । के सरन्या को कोविड केयर सेंटर से कल डिस्चार्ज किया गया था ।

सर्दी, खाँसी, बुखार और साँस लेने में तकलीफ से पीड़ित मरीजों की जाँच एवं उपचार के लिये जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में शासकीय तथा निजी अस्पतालों में खोले गये 62 फीवर क्लीनिक . फीवर क्लीनिक से मिले डेटा के आधार पर भी कोरोना के लक्षण वाले मरीजों के लिये जायेंगें सेम्पल . कलेक्टर श्री भरत यादव ने सोमवार 25 मई की ब्रीफिंग में दी जानकारी .

Leave A Reply

Your email address will not be published.