Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

थाना कोतवाली में हुई सभी प्रमुख मंदिरो के पुजारियों की बैठक

0 18

जनमाष्टमी पर्व को लेकर मण्डला पुलिस ने की चाक चौबंद व्यवस्था

मण्डला। जिले में अनलाक की घोषणा के बाद से ही आम जनजीवन सामान्य हो रहा है । कोरोना संक्रमण की पहचान, परिक्षण तथा उपचार को लेकर शासन स्तर पर की गई तैयारियों के फलस्वरुप शासन द्वारा भी धीरे धीरे अनलाक में दी गई छूट के दायरे को बड़ाया जा रहा है साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए आवश्यक उपायों के मद्देनजर शासन द्वारा सुरक्षा संबंधी नई गाईडलाईन भी जारी की गई है । आगामी समय में आने वाले प्रमुख त्यौहारों को देखते हुए म.प्र. गृह मंत्रालय द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये दिनांक 07.08.2020 को धार्मिक त्यौहारों और उससे संबंधित आयोजनों के संबंध में नये दिशा निर्देश जारी किये गये है । पुलिस अधीक्षक मण्डला दीपक कुमार शुक्ला के निर्देशन में मण्डला पुलिस द्वारा लगातार सभी प्रमुख त्यौहारों पर पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था और इंतेजाम करने के साथ साथ आमजनता को शासन द्वारा जारी किये गये निर्देशों से अवगत कराते हुए कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिये शासन के निर्दशों का पालन करने के लिये भी समझाईस दी जा रही है । इस संबंध में मण्डला पुलिस एवं जिला प्रशासन द्वारा नियमित रुप से सभी थाना क्षेत्रों में शांति समिती की बैठकों का आयोजन एवं क्षेत्र के गणमान्य नागरिकों, धर्मगुरुओं एवं आमजनता के साथ बैठकों में नियमित चर्चा भी की जा रही है ।

इसी तारतम्य में आगामी जन्माष्टमी पर्व पर सुरक्षा संबंधी इंतेजाम करने के साथ साथ कोराना वायरस संक्रमण से बचाव के संबंध में शासन द्वारा जारी गाईडलाईन का पालन सुनिश्चित करने हेतु पुलिस अधीक्षक मण्डला के निर्दशन पर थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक निलेश दोहरे द्वारा शहर के सभी प्रमुख कृष्ण एवं राम मंदिरों के पुजारियों एवं व्यवस्थापकों की बैठक का आयोजन किया गया । दिनांक 11.08.2020 को थाना कोतवाली परिसर में आयोजित बैठक में थाना प्रभारी कोतवाली द्वारा जन्माष्टमी त्यौहार के मद्देनजर मंदिरों में लगने वाली सुरक्षा व्यवस्था एवं अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओ पर मंदिरों के पुजारियों एवं व्यवस्थापकों से विस्तार से चर्चा की गई साथ ही सभी को शासन द्वारा जारी किये गये निर्देशों की जानकारी देते हुए उनका पालन करने की समझाईस भी दी गई । इस अवसर पर मण्डला पुलिस द्वारा मंदिरों में एक समय में 05 से अधिक व्यक्तियों के एकत्रित ना होने, सार्वजनिक स्थानों पर किसी प्रकार का धार्मिक आयोजन नही करने, धार्मिक जुलुस या रैली नही निकालने एवं किसी सार्वजनिक स्थानों पर मूर्ति अथवा झांकी की स्थापना नही करने के शासन के निर्देशों का पालन करने तथा आमजनता को भी इस संबंध में जागरुक करने की अपील सभी लोगों से की गई ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.