Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

दस दिन में कर्जा माफ वरना ग्यारहवें दिन बदलेगा सीएम

0 9

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का चुनावी सभा में ऐलान
सतना। कोरोनावायरस महामारी के बढ़ते संक्रमण के बीच मध्य प्रदेश के सियासत में लगातार गर्माहट बढ़ती जा रही है।
ग्वालियर और चंबल क्षेत्र के किसानों को साधने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चुनावी सभा में एक बड़ा बयान दे डाला।जिसके बाद से राजनैतिक पंडित नये समीकरण को लेकर आगे बढ़ने लगे है।मध्य प्रदेश में चौथी बार भाजपा सरकार खरीद फरोख्त के सहारे बनी है इसमें कोई दो राय नहीं है।बहुत जल्द विधानसभा उपचुनाव की तारीख घोषित होने वाली है। उधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित पूरी सरकार और भाजपा संगठन उपचुनाव जीतने की जुगत भिड़ा रहा है। चुनावी सभाओं में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी आदत के अनुसार घोषणाओं का अंबार लगाते जा रहे हैं।एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किसानों को साधने का काम किया है।मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार दो लाख रुपए तक किसानों का कर्जा माफ करेगी।उन्होंने कहा कि दस दिन में यह काम कर लिया जाएगा वरना ग्यारहवें दिन मुख्यमंत्री बदल जाएगा।उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार के जमाने में किसानों की कर्ज माफी केवल एक छलावा है।यही वजह है कि मध्यप्रदेश के लाखों किसानों को कर्ज माफी वाली योजना का लाभ नहीं मिल पाया है।उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के किसानों को कर्ज माफी का लाभ हमारी भाजपा सरकार दिलवाएगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने मध्य प्रदेश के किसानों के साथ छलावा किया है। भाजपा ने हमेशा सबका साथ सबका विकास वाले मूलमंत्र में काम किया है।ग्वालियर और चंबल संभाग के 27 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं। यही वजह है कि इन दिनों मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष बीडी शर्मा और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित पूरे भाजपा सरकार का फोकस आगामी दिनों में होने वाले उपचुनाव पर है। जैसे जैसे उपचुनाव का समय नजदीक आ रहा है ठीक उसी अंदाज में भाजपा सरकार की बेचैनी भी बढ़ती जा रही है। भाजपा सरकार को सत्ता के सिंहासन पर बनाए रखने के लिए अधिक से अधिक सीटों पर उपचुनाव जीतना बहुत जरूरी है।बेलगाम सरकार की मंत्री, कलेक्टर जीतवा देंगे सीट उपचुनाव के लिए प्रचार प्रसार तेज हो गया है। भाजपा सरकार में मंत्री और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की करीबी इमरती देवी के बोल अक्सर बेलगाम हो जाते हैं।जब पंद्रह माह के लिए कांग्रेस सरकार सत्ता में आई थी उस दौरान भी मंत्री इमरती देवी के बेलगाम बोल सियासत में उबाल ला देते थे। बुधवार को ग्वालियर और चंबल क्षेत्र में भाजपा कैंडिडेट्स के लिए प्रचार प्रसार करने के दौरान भाजपा सरकार में मंत्री इमरती देवी सत्ता के नशे में चूर होकर एक ऐसी बात बोल गयी जिसका पूरा असर 27 सीटों पर होने वाले उपचुनाव पर सीधे पड़ेगा।उन्होंने कहा कि क्या वे यानी कांग्रेस वाले सबकी सब 27 सीटें जीत लेंगे और सत्ता सरकार आंखें बंद किए रहेगा।उन्होंने कहा कि सत्ता सरकार जिस कलेक्टर को कह देगा वही सीट जीतवा देगा।भाजपा सरकार में मंत्री इमरती देवी ने कहा कि कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए सभी 27 सीटों पर चुनाव जीतना होगा जबकि भाजपा के लिए आठ सीटों से काम फिट हो जाएगा।सत्ता बल के नशे में चूर होकर भाजपा कैंडिडेट्स उपचुनाव जीतने के दावे कर रहे हैं।उन्होंने कहा कि कांग्रेस छोड़कर आए हमारे सभी साथी चुनाव जीतेंगे।जिस तरह से भाजपा ने खरीद फरोख्त को आधार बनाकर मध्य प्रदेश में अपनी सरकार बनाई है और अब भाजपा के मंत्री कलेक्टर के माध्यम से चुनावी सीट जीतने का दम भर रहे हैं।उससे कहीं न कहीं अब ग्वालियर और चंबल संभाग के आम मतदाताओं को लोकतंत्र बचाए रखने के लिए एक कठोर जन संदेश देने का काम 27 सीटों के उपचुनाव में करना चाहिए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.