Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

प्रवासी मजदूरों को दिया जाए क्वारंटाइन अवधि का रोजगार भत्ता:पट्टा

0 13

क्षेत्र के प्रवासी मजदूरों से मिल रहे बिछिया विधायक
मण्डला । कोरोना संक्रमण के चलते किये गए लॉकडाउन और इसके साथ प्रवासी मजदूरों की घर वापसी ने इन मजदूरों की आजीविका को पूरी तरह खत्म ही कर दिया है। बीते महीनों में लाखों प्रवासी मजदूर सड़कों पर पैदल चलते देखे गए या किसी वैकल्पिक संसाधन से आते देखे गए। इन चार महीनों ने मजदूरों की जिंदगी पूरी तरह से बदलकर रख दी है और वर्तमान में वे अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे हैं। जो पूंजी उन्होंने कमाई थी वो तो उनकी घर वापसी में ही खत्म हो गई और घर आने के बाद भी उन्हें रोजगार मिलने की जगह क्वारंटाइन होना पड़ता है जिससे अगले 14 दिन भी उनके लिए काफी मुश्किल होते हैं। इसलिए प्रवासी मजदूरों को क्वारंटाइन अवधि का रोजगार भत्ता दिया जाए। यह कहना है बिछिया विधानसभा के विधायक नारायण सिंह पट्टा का , जो अपने विधानसभा क्षेत्र के प्रवासी मजदूरों से मिलकर उनकी समस्याओं से निरंतर अवगत हो रहे हैं। बुधवार को विधायक श्री पट्टा ने घुघरी विकासखण्ड के ग्राम इलाही पहुंचकर हाल ही में तेलंगाना से अपने घर पहुंचे 61 प्रवासी मजदूरों से मुलाक़ात की और उनकी समस्याओं को सुना। मजदूरों ने बताया कि घर वापस आने में उनकी पूरी कमाई हुई पूंजी खत्म हो गई और आने के बाद भी उन्हें 14 दिन के लिए क्वारंटाइन कर दिया गया जिससे वे 14 दिनों तक कोई काम नहीं कर पाए, वहीं मप्र सरकार द्वारा दिये जाने वाले 1 हजार रुपये भी उन्हें नही मिले, अब वे घर का खर्च चलाने के लिए दूसरों से उधार लेकर अपना काम चला रहे हैं। इन मजदूरों में कुछ मजदूर रोजगार गारंटी योजना में काम कर रहे हैं उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने मजदूरी 202 रुपये तो कर दी है लेकिन उन्हें अब भी 150 रुपये ही मिलते हैं वो भी कई दिनों के बाद। ऐसे में उनके लिए परिवार चला पाना काफी मुश्किल हो गया है। इस संबंध में विधायक ने अधिकारियों से बात भी की और शासन स्तर से पत्राचार कर संभावित निराकरण की पुरजोर कोशिश की जाएगी। इस दौरान विधायक श्री पट्टा के साथ ग्रामीण जन व कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.