Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

बस आपरेटर्स को राहत पांच महीने का टैक्स हुआ माफ

0 20

सितंबर में 50% की रियायत छूट देने की प्रक्रिया शुरू
रीवा। कोरोनावायरस महामारी के बीच बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए हमारे देश में बीते 25 मार्च 2020 से टोटल लाक डाउन घोषित करते हुए इसे लागू कर दिया गया।
बस आपरेटर्स को लाक डाउन के दौरान खड़ी बसों के टैक्स से राहत देने का फैसला भाजपा सरकार ने कर लिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अवर सचिव केवल राम धुर्वे ने इस संबंध में एक आदेश दो दिन पहले जारी कर दिया है।
बस संचालकों को पांच महीने का टैक्स पूरी तरह माफ करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। टैक्स शून्य होने की प्रक्रिया लागू कर कम्प्यूटर पर अपडेट करना शुरू कर दिया है। प्रकाशन में कुछ तकनीकी कारणों की वजह से समय लग सकता है।
ज्ञात हो कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बस संचालकों का टैक्स माफ करने का ऐलान किया था, जिस पर सरकारी मशीनरी ने कामकाज शुरू कर दिया है।1 अप्रैल से 31 अगस्त 2020 तक का पूरा टैक्स माफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में चार सितंबर 2020 को टैक्स के मसले पर घोषणा की थी।
यात्री बसों के संचालन की स्थिति पुनः सामान्य हो, इस दृष्टि से माह सितम्बर 2020 के देय वाहनकर में 50% की छूट शासन प्रदान करेगी। वाहनकर जमा करने की अवधि 30 सितंबर 2020 तक बढ़ा दी गई है।बस आपरेटर्स की समस्याओं को दूर करने के नजरिए से यात्र बसों पर देय मासिक वाहनकर को 1 अप्रैल से 31 अगस्त 2020 तक की अवधि तक पूर्णतः माफ किया जाएगा।मुख्यमंत्री की घोषणाओं के क्रियान्वयन के संबंध में आवश्यक कार्रवाई की अद्यतन जानकारी कम्प्यूटर के फालोअप में दर्ज कराना है।बस आपरेटर्स ने टैक्स माफ करने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन करते हुए ज्ञापन पत्र भी सौंपा था।जिस पर अंततः मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पांच महीने का टैक्स पूर्णतः माफ करने का ऐलान किया है।सरकारी मशीनरी ने इस दिशा में प्रकिया शुरू कर दी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.