Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

मंडला जिले को मिली सबसे बड़ी सौगात

0 10

661 करोड़ की लागत से होगा निर्माण 446 गांवों को मिलेगी पेयजल सुविधा

मण्डला। प्रदेश की कांग्रेसनीत कमलनाथ सरकार ने मण्डला जिले के सर्वांगीण विकास के लिए एक और सबसे बड़ा आयाम जोड़ दिया है। मण्डला जिले के लिए प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने अब तक की सबसे बड़ी योजना की स्वीकृति दी है जिससे अब जिले के ग्रामीण क्षेत्रों की पेयजल समस्या का प्रभावी निराकरण हो सकेगा। गुरुवार को जिला कांग्रेस कार्यालय में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए बिछिया विधायक नारायण सिंह पट्टा व निवास विधायक डॉक्टर अशोक मर्सकोले ने बताया कि जिले के 446 ग्रामों में पेयजल सुविधा विकसित करने के लिए प्रदेश सरकार ने मण्डला जिले में हालोन पेयजल परियोजना की स्वीकृति दे दी है। इस सम्पूर्ण परियोजना की लागत 661.28 करोड़ है। जिससे जिले के 446 ग्रामों को पेयजल आपूर्ति की जाएगी। इस हेतु प्रदेश में सरकार बनने के साथ ही प्रयास प्रारम्भ कर दिए गए थे एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री से मिलकर इस हेतु अनेक बार आग्रह किया गया था। जिस पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शकमलनाथ ने मण्डला जिले के विकास को प्राथमिकता देते हुए इस ग्रामीण समूह पेयजल योजना की स्वीकृति प्रदान की है। इसका क्रियान्वयन मध्यप्रदेश जल निगम द्वारा किया जाएगा एवं इस हेतु आरआईडीएफ अंतर्गत नाबार्ड से वित्तीय पूर्ति की जाएगी। इस हेतु दिनांक 31.01.2020 को मध्यप्रदेश जल निगम की परियोजना परीक्षण समिति की बैठक में जिले की इस पेयजल योजना सहित प्रदेश की 15 अन्य पेयजल परियोजनाएं प्रशासकीय स्वीकृति हेतु प्रस्तुत की गई थी जिनकी प्रशासकीय स्वीकृति उपरांत विगत 3 मार्च को आयोजित कैबिनेट की बैठक में अनुमोदन करने के उपरांत इनकी स्वीकृति की गई है। अब विभाग द्वारा निविदा की कार्यवाही प्रारम्भ की जाएगी जो कि आगामी माहों में क्रियान्वयन की जाएगी। जिले की इस सबसे बड़ी पेयजल परियोजना को हालोन बांध से पानी उपलब्ध कराया जाकर जिले के 446 गांवों को आपूर्ति की जाएगी जिसमें विकासखंड बिछिया के 145, मवई के 53, घुघरी के 91, मण्डला के 79 व मोहगांव के 78 गांव शामिल हैं। जिले के सर्वांगीण विकास के लिए इस सबसे बड़ी पेयजल परियोजना की स्वीकृति देने के लिए विधायक नारायण सिंह पट्टा व विधायक डॉक्टर अशोक मर्सकोले ने प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं पीएचई मंत्री सुखदेव पांसे का आभार ज्ञापित किया है एवं जिले के विकास के लिए इसी रफ्तार से कार्य करते रहने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराया है। विधायक द्वय का कहना है कि जिले के विकास के लिए हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे और हमारा मण्डला जिला मुख्यमंत्री का गोद लिया हुआ जिला है जिसके विकास की जवाबदारी भी मुख्यमंत्री ने ही ली है और वे अपनी इस जबाबदारी को बखूबी निभाने का काम कर रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.