Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

रिकार्डों में दर्ज काम धरातल पर नही…

0 6

जनपद के अधिकारीयों का मिल रहा संरक्षण, शिकायत के बाद अभी बनाये जा रहे हैं शौचालय

सरपंच व उपसरपंच पति की मनमानी से परेशान हैं ग्रामीण,सबके समक्ष निष्पक्ष हो जांच नहीं तो होगा आन्दोलन

मंडला, ब्यूरो।

अगर जांच टीम रिकार्डों के अनुसार धरातल में निर्माण कार्यों की गिनती करे तो ग्रामीणों का आरोप है कि मवई जनपद की ग्राम पंचायत दाढ़ी में अनेक काम दिखाई नहीं देंगे व कई अधूरे पड़ें हैं और राशि निकाल ली गई है / यहाँ जनपद के अधिकारियों के संरक्षण पर सचिव के साथ मिलकर सरपंच सुनीता धुर्वे के शिक्षक पति भददू लाल धुर्वे व उपसरपंच सरिता यादव के पति मोल्हू यादव द्वारा जमकर पंचायत की राशी का गोलमाल किया गया है / जिसकी शिकायत पिछले दिनों ग्रामीणों द्वारा कलेक्टर को की गई है / यहाँ रिकार्ड में सैंकड़ों शौचालय पूर्ण बताकर राशि हजम कर ली गई और अब शिकायत के बाद अभी भी गुणवत्ता विहीन शौचालय बनाये जा रहे हैं इस काम की राशि किसी भी हितग्राही के खाते में नहीं डाली गई हैं / उपसरपंच पति मोल्हू यादव के बेंक खाते में 5लाख बावन हज़ार रुपये ,गनपत यादव के खाते में दो लाख अट्ठाईस हज़ार , कलीराम यादव के खाते में बहत्तर हज़ार रुपये और सरपंच सुनीता धुर्वे के खाते में छ्यांनवे हज़ार रुँपये पंचायत से डाले गए हैं और कभी भी ग्रामीणों को आम सभा में हिसाब किताब नहीं बताया गया है /

          यहाँ फील्ड में निम्न काम देखें जाएँ जो अधूरे हैं या किये ही नहीं गए हैं और राशि निकाल ली गई है –1-पंचायत भवन की बाउंड्रीवाल ,2-पोषक ग्राम करेली में प्राथमिक शाला मैदान व बाउंड्रीवाल,3-करेली स्कूल से समनापुर की ओर ग्रेवल रोड व इसमें बनी पुलिया,4-करेली रोड पर राकेश के घर से मानसिंह यादव के घर तक की सी.सी.रोड इसी तरह करेली रोड से नर्मदा के घर तक की सी.सी.रोड अधूरी है,5-ग्राम दाढ़ी में फत्तू के घर से फूलसिंह धुर्वे के घर तक रोड बनाई ही नहीं गई /                    

     इसी तरह राकेश सोनवानी के खसरा नंबर 449 के खेत पर तालाब निर्माण के लिए तीन लाख पचास हज़ार रुपये स्वीकृत हुए थे हितग्राही के अनुसार जिसमें एक लाख पंच्यांवे हज़ार का काम ही कराया गया है शेष राशि का अता –पता नहीं है / एक न्यूज़ चैनेल के साक्षात्कार में यहाँ कि शहरसिंह परते ने बताया कि इससे सरपंच पति जो शिक्षक हैं के द्वारा पी.एम्.आवास स्वीकृत कराने के लिए मुर्गा खाकर शराब पीकर पांच हज़ार रुपये ले लिया और आवास भी स्वीकृत नहीं किया गया तब शहरसिंह परते नें राम नाथ आयाम को अपना खेत बेंच कर मकान बनाया वहीँ दूसरी ओर यहाँ के रोजगार सहायक जगदीश यादव ने अपने छह सगे रिश्तेदारों का पी.एम्.आवास बनवा दिया इसी तरह सरपंच उपसरपंच ने भी अपने रिश्तेदारों के आवास बनवाये जरुरतमंदों की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है / आक्रोशित ग्रामीणों ने शीघ्र ही सबके समक्ष निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए चेतावनी दी है , अन्यथा आन्दोलन किया जाएगा

Leave A Reply

Your email address will not be published.