Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

वैध न कराने वाले जल उपभोक्ताओं के कटेगें नल कनेक्शन

0 23

जबलपुर। नगर निगम द्वारा वर्तमान वित्तीय वर्ष के अंतर्गत निगम की आय में वृद्धि करने के लिए संभागवार एवं वार्डवार वसूली अभियान चलाया जा रहा है, जिसकी समीक्षा प्रतिदिन निगमायुक्त अनूप कुमार सिंह के द्वारा की जा रही है। समीक्षा के दौरान देखा गया कि सम्पत्तिकर के एवज में जलशुल्क की वसूली कम हो रही है और जानकारी दी गयी कि शहर में अभी भी अवैध नल कनेक्शनों की संख्या बढ़ी है। इस पर निगमायुक्त अनूप कुमार सिंह ने जल विभाग के कार्यपालन यंत्री पुरूषोत्तम तिवारी को समक्ष में बुलाकर निर्देशित किया कि संभाग के सभी जल उपयंत्रियों को निर्देशित करें कि सभी जल उपयंत्री अपने अपने संभागों का प्रातः 7 बजे से 11 बजे तक भ्रमण करेगें और इस दौरान देखेगें कि कहॉं कहॉं अवैध नल कनेक्शन लगे हैं और जल उपभोक्ताओं के द्वारा जल शुल्क की राषि नगर निगम में जमा नहीं की जा रही है। ऐसी स्थिति में आवासीय अवैध नल कनेक्शन को 12 हाजर 40 रूपये जमा कराकर वैध करने की कार्यवाही सुनिश्चित करें। इसी प्रकार कामर्शियल अवैध नल कनेक्शन को वैध करने के लिए 16 हजार रूपये की राशि जमा कराकर वैधता प्रदान करें। इस दौरान यदि कोई जल उपभोक्ताओं के द्वारा हीला हवाली की जाती है अथवा वैध करने की शुल्क जमा नहीं की जाती है तो मौके पर ही जल उपभोक्ताओं के नल कनेक्शन काट दिये जाये।
निगमायुक्त अनूप कुमार सिंह ने यह भी निर्देषित किया कि संभाग के जल उपयंत्रियों को अपने अपने संभागों से प्रतिदिन एक-एक लाख रूपये की वसूली करने का भी लक्ष्य दें, जिसके परिपालन में आज कार्यपालन यंत्री पुरूषोत्तम तिवारी ने संभाग के सभी जल उपयंत्रियों की बैठक कर लक्ष्य आवंटित किये। उक्त के संबंध में पुरूषोत्तम तिवारी ने बताया कि गढ़ा संभाग से विजय दुबे, संभाग 2 कछपुरा से विजय पटैल, संभाग 3 रामपुर से इन्वाती, संभाग 4 छोटी लाईन फाटक नीलेश साहू, संभाग 5 संजय गांधी मार्केट से हनुमंत राव, संभाग 6 क्षेत्रीय बस स्टैण्ड से चन्दशेखर पटैल, संभाग 7 से रविन्द्र सिंह ठाकुर, संभाग 8 से शैलेन्द्र पटैल, संभाग 9 से मनोज पटैल, संभाग 10 से अरविन्द पटैल, संभाग 11 से जुगल मेवारी, संभाग 12 से निर्मल रैकवार, संभाग 13 से मनीष कोरी, संभाग 14 से रविशंकर पटैल, संभाग 15 से पंकज पटैल एवं संभाग क्रमांक 16 से अभिषेक रैकवार उपयंत्री को एक-एक लाख रूपये का लक्ष्य आवंटित कर महाभियान के रूप में अवैध नल को वैध करने की कार्यवाही के उत्तरदायित्व सौंपे गये। बैठक के दौरान सहायक यंत्री जे.पी. बघेल, अनिल सिंगारे, आदि भी उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.