Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

सीएमओ ने कोरोना वायरस से बचाव के संबंध में पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को दी जानकारी

0 2


जबलपुर।कोरोना वायरस को लेकर लोगों में जागरूकता का प्रभाव भी देखा जा रहा है लोगों की जीवन शैली में भी परिवर्तन आया है। इससे संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा मानस भवन में आयोजित कार्यक्रम में जिले के पुलिस कर्मचारियों को दी गईं।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी जिला जबलपुर ने पुलिस अधिकारियाें एवं कर्मचारियों को प्रशिक्षण में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के सम्बंध में दी महत्वपूर्ण जानकारियाॅ।

                आज दिनाॅक 2-6-2020 को प्रातः 11 बजे मानस भवन में पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के मार्ग निर्देशन में कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के सम्बंध में प्रशिक्षण कार्यक्रम रखा गया। अति. पुलिस अधीक्षक शहर श्री अमित कुमार (भा.पु.से.), अति. पुलिस अधीक्षक शहर उत्तर श्री अगम जैन (भा.पु.से.), अति. पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण डाॅ संजीव उईके, अति. पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्री शिवेश सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध डाॅ. रायसिंह नरवरिया के अलावा जिले में पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारी एवं सभी थाना प्रभारी शहर एवं देहात के साथ साथ थानों में पदस्थ 2-2 कर्मचारी इस प्रकार लगभग 200 अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थे।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी जिला जबलपुर डाॅ. मनीष मिश्रा एवं विक्टोरिया अस्पताल के आर.एम.ओ. डाॅ. संजय जैन, एवं डाॅ रत्नेश कुररिया द्वारा उपस्थित अधिकारी, कर्मचारियों केा बताया कि कोरोना वायरस  हवा में देर तक नहीं रहता, एक मीटर के दायरे में ही रहता है कोराना वायरस के संक्रमण से डरने की बिलकुल भी जरूरत नहीं है, सिर्फ सावधानी एवं सर्तकता बरतने की जरूरत है क्योंकि कोराना वायरस से डैथ का प्रतिशत बहुत ही कम है, अधिकांशतः बुजुर्ग लोग जो की कई गम्भीर बीमारियों से पीडित थे की ही मृत्यु हुई है, शेष सभी लोग स्वस्थ हो गये हैं, ।


                 कोरोना वायरस के सक्रमण से बचाव हेतु साबुन पानी से कम से कम 20 सैकेण्ड तक हर एक दो घंटे के अंतराल में हाथ धोयें या हाथों को सैनेटाईजर से सैनेटाईज करें। कम से कम 1 मीेटर की सामाजिक दूरी बना कर रखें।  कपडे का मास्क सबसे अच्छा मास्क होता है, एन.95 आदि मास्कों को ज्यादा देर तक लगाने में घुटन मेहसूस होती है अतः कपडे का मास्क लगाये, मास्क को सामने से टच नहीं करें, जब भी एडजैस्ट करना हो मास्क को साईड से पकड कर एडजैस्ट करें, अपने हाथ को चेहरे पर बिलकुल भी न लगाये, हो सके तो हाथ को साबुन पानी से धोने के बाद चेहरे को भी साबुन पानी से धो लें, यदि आप हाथ को चेंहर पर नहीं लगायेंगे तो अपके संक्रमित होने की संभावना न के बराबर रहेगी क्योंकि कोरोना वायरस का संक्रमण मुंह, नाक, आॅख से ही इंन्ट्री करता है। जब भी आप घर जाते है अपने पहने हुये कपड़ो को एवं  मास्क को  कम से कम 10 मिनिट तक साबुन पानी में भिगो दें उसके बाद धोकर सुखाकर प्रेस जरूर करें क्योकि प्रेस करने से आपके पहने हुये कपड़े, मास्क, पर कोराना वायरस के संक्रमण का प्रभाव नष्ट हो जाता है।  जब भी घर से बाहर निकलें, हैवी नाश्ता या खाना खाकर निकलें क्योंकि खाली पेट रहने से शरीर की रोग प्रति रोधक क्षमता घट जाती हैै अतः रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने हेतु फल, पोैस्टिक खाना खायें, कम से कम 30 मिनिट शारीरिक व्यायाम एवं 15 मिनिट प्राणायाम समय निकाल कर अवश्य करें। – सूखी खांसी एवं बुखार आना, थकान लगना, सांस लेने में तकलीफ होना, कमजोरी लगना कोरोना वायरस के लक्षण है। सर्दी जुखाम में नाक से पानी  आना , कफ निकलना कोराना वायरस के लक्षण नहीं है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.