Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

बीमा क्लेम की राशि पाने के लिए किसान ने रची अपनी हत्या की साजिश

0 39

पुलिस जांच  में हुआ खुलासा   

कटनीदर्पण। रीठी के मझगवां गांव में अपने खेत से रहस्मयी तरीके से लापता हुआ किसान के मिल जाने के बाद जो कहानी सामने आई है वो काफी हैरतअंगेज है। किसान ने बीमा क्लेम की राशि लेने के लिए अपनी ही हत्या का झूठा षड़यंत्र रचा था। अब पुलिस किसान कि साजिश में शामिल अन्य लोगों की भी जानकारी जुटा रही है। रीठी थाना अंतर्गत मझगवां गांव में फसल की तकवारी के करने गए लापता हुए किसान को पुलिस ने खोज निकाला है। पुलिस टीम को किसान सतना जिले में मिला है। जहां से पुलिस उसे अपने कब्जे में लेकर रीठी ले आई है। शुरुआती पूछताछ में पुलिस को किसान रामफल पटैल ने बताया है कि वह कर्ज से परेशान होकर अपनी हत्या किए जाने का झूठा षड़यंत्र रचा था और खेत में बने कमरे में मुर्गे का खून फैलाकर सतना  चला गया था। पुलिस ने बताया कि  18 जनवरी की रात को  मझगवां गांव निवासी रामफल पिता शिवलाल पटेल अपने घर से फसल की तकवारी के लिए खेत गया था। खेत में ही एक कमरा बना था जहां पर किसान रात में रहता था और फसल की तकवारी करता था। लेकिन दूसरे दिन सुबह काफी देर तक जब रामफल घर वापस नहीं आया तो उसके परिजनों ने खेत जाकर देखा। खेत में बने कमरे में रामफल नहीं था, कमरे में खून फैला हुआ था। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने भी मौका मुआएना किया। इस मामले में किसान की हत्या किए जाने का संदेह जताया जा रहा था लेकिन किसान की लाश नहीं मिलने के कारण हत्या की पुष्टी नहीं की गई थी। इसी बीच पुलिस को जानकारी मिली कि किसान रामफल सतना जिले गया है जिसके बाद पुलिस टीम सतना जिले पहुंची और रामफल को अपने कब्जे में ले लिया। रीठी लाए जाने के बाद पूछताछ ने रामफल पटैल ने बताया है कि खाद्य और लोहे की सरिया खरीदने के कारण उस पर दो से तीन कारोबारियों का कर्जा हो गया था। इसी वजह से उसने अपनी ही हत्या की झूठी साजिश रची और कमरे में मुर्गे का खून फैलाकर वहां से भाग गया था। मामले की जांच पुलिस कर रही है। ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.