Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

किसानों के समर्थन में विशाल ट्रैक्टर रैली।

0 42

किसानों के समर्थन में विशाल ट्रैक्टर रैली।
जारी है केंद्र सरकार के कृषि बिलों का विरोध।
जबलपुर। केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानून का विरोध दिल्ली में किसानों के द्वारा तो किया जा रहा है। लेकिन शहर में भी इन बिलों का विरोध किया जा रहा है और किसानों की एकजुटता लगातार जारी है। इन बिलों के वापस होने तक संघर्ष जारी रहेगा। यह संकल्प है भारतीय किसान यूनियन का।
भारतीय किसान यूनियन ने किसानों के समर्थन में एक विशाल ट्रैक्टर रैली का आयोजन किया। अपने खेतों को छोड़कर, गांव गांव से निकलकर पांच सौ ट्रैक्टर सड़कों पर आ गए और तकरीबन 6 किलोमीटर का रास्ता रैली में तय किया। कटंगा बाईपास से शुरू हुई इस ट्रैक्टर रैली को दीनदयाल चौक पर पुलिस द्वारा रोक लिया गया। किसानों के विरोध को देखते हुए एसडीएम हर्ष दीक्षित वहां पहुंचे और किसानों की मांगों के संदर्भ में एक ज्ञापन लिया। यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष सम्मति सैनी ने बताया कि दिल्ली में किसान आंदोलन में शहीद हुए सभी किसान भाइयों को 50-50 लाख रुपए दिए जाने की मांग की गई है। तीनों काले कानूनों को वापस लेने की मांग की गई है और इसके साथ ही यह भी कहा गया कि जब तक सरकार इन बिलों को वापस नहीं लेती। तब तक लगातार संघर्ष जारी रहेगा।
इस रैली में हजारों की संख्या में किसानों ने भाग लिया और अपना विरोध प्रदर्शन प्रस्तुत किया। भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष सम्मती सैनी के साथ प्रदेश संगठन महामंत्री मनीष पटेल, प्रदेश सचिव सुरेंद्र यादव, रिंकू तिवारी, धीरेंद्र तिवारी, बालकिशन, सतीश यादव, साहब सिंह यादव, राघवेंद्र यादव, दुर्गेश पांडे, शुभम पटेल, सत्येंद्र तिवारी, रंजीत पटेल, संतोष राजपूत, अमित पटेल, घनश्याम पटेल, अवनीश, रामराज, अरुण सिंह, योगेंद्र, अखिलेश पटेल, सरोज यादव, नरेश दीक्षित, दिनेश पुरी, हरिओम पटेल, कमलेश यादव, अरविंद, सत्येंद्र गर्ग, विजय जैन, विमल जैन, सीताराम कुशवाहा, तुलसीराम, राजेश ठाकुर, दिनेश सोनी, जगन्नाथ शर्मा, मनोज पहलवान, महेंद्र चक्रवर्ती, मुकेश सोनी, कपिल पटेल, श्रवण यादव, अभिषेक सिंह, नीलेश पटेल, नितिन दुबे, दुर्गा महाराज, दिनेश साहू के साथ बड़ी संख्या में किसान भाई मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.