Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

भगवान श्री राम की कथा का नव दिवसीय आयोजन।

0 59


विगत 16 वर्षों से निरंतर जारी है यह आयोजन।
जबलपुर। संस्कारधानी जबलपुर का नाम यूं ही नहीं पड़ा है। बल्कि यहां धर्म भक्ति कि वह गंगा बहती है। जिसमें डूबने वाला हर व्यक्ति भवसागर पार हो जाता है।
विगत 16 वर्षों से शांति नगर में भगवान राम की कथा का पावन पर्व आयोजित किया जाता है। 9 दिन चलने वाले इस पर्व के दौरान भगवान राम की कथा के साथ-साथ घरों घर उनके संस्कारों की भी पहुंच होती है। इस वर्ष यह आयोजन शांति नगर, गली नंबर 7 में 1 जनवरी से लेकर 9 जनवरी 2021 तक किया जा रहा है। रामकथा के सभी सम्मानीय सदस्यों में पार्षद सदस्य श्री राम शुक्ला मानस प्रवक्ता डॉक्टर स्वामी विनेश्वरण रहेंगे। इस वर्ष राम भक्तों के लिए दोहरी खुशी का अवसर है। क्योंकि भगवान राम का अयोध्या में भव्य मंदिर बनने जा रहा है। इसलिए इस कथा को भव्य स्वरूप दिया जा रहा है। सभी राम भक्तों को यह सौभाग्य प्राप्त होगा कि, वह अपना अंश प्रभु श्री राम की भव्य निर्माण में समर्पित कर सकें। रामकथा समिति के सदस्यों द्वारा सभी रामभक्तों से उनकी गरिमामई उपस्थिति की प्रार्थना की गई है। कथा का समय दोपहर 3:00 बजे से शाम को 6:00 बजे तक रहेगा और कथा में मुख्य यजमान के रूप में लक्ष्मी प्रसाद नेमा मौजूद रहेंगी।
आज कथा का पहला दिन था। इस अवसर पर त्रिमूर्ति नगर दुर्गा मंदिर से लेकर आयोजन स्थल तक क्षेत्र में एक भव्य शोभायात्रा निकाली गई और इस शोभायात्रा में प्रभु श्री राम और सम्माननीय कथावाचक महोदय की झांकियां लोगों के आकर्षण और श्रद्धा का केंद्र रहीं। लोगों ने रास्तों में फूल बरसाए और इस यात्रा का श्रद्धा भाव से सम्मान किया। क्षेत्र की महिलाएं कलश यात्रा को लेकर आगे चल रही थी और उनके पीछे राम भक्तों की टोली क्षेत्रीय पार्षद श्री राम शुक्ला के सानिध्य में चल रही थी।
इस अवसर पर श्री राम शुक्ला, मधुबाला राजपूत, पवन गुप्ता, रवि मोहन, संतोषी, मनू तिवारी, संतोष झारिया, कुसुम कोस्टा, जय पुरोहित, भूषण पाठक, अजय विश्वकर्मा, वंदना सिंह, विक्की ठाकुर, दुर्गेश अग्रहरि, अमित मिश्रा, अनुभव गुप्ता के साथ राम भक्तों की एक अनुशासित संख्या मौजूद थीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.