Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

धार्मिक नगरी में चार पहिया वाहनों के प्रवेश के कारण सुरक्षा व्यवस्था चौपट।

0 36

समिति के पास दो बड़े वाहन पार्किंग दोनों का उपयोग हो 365 दिन तो सुरक्षा व्यवस्था आ सकती है पटरी पर।

गोवर्धन गुप्ता मैहर। शारदा देवी जी धाम में अब लगभग 365 दिन भीड़ लगातार भक्तो की बनी रहती है लेकिन समिति ने आज तक मेला के अलावा आम दिनों में चार पहिया वाहनों का कोई व्यवस्था नही बैरियल पर 60 रुपये की पर्ची काटने के बाद वाहन अंदर जाने के बाद पूरा सड़क जाम हो जाता है यहां तक कि पैदल चलना भी मुश्किल हो जाता है दर्शनार्थियों को जब कि समिति के पास दो बड़े पार्किंग है जो लगभग कई एकड़ में है उसके बाद भी समिति की कमाई के चक्कर में पूरी व्यवस्था चौपट लेकिन जिम्मेदार लोग नही देते ध्यान चाहे तो सभी वाहनों को बंधा पार्किंग व वन विभाग के सामने दोनों पार्किन में वाहनों को खड़ी किया जाना चाहिए वही जो शासन द्वारा या समिति जिनको वीआईपी एवम वी वीआईपी को मानते है उनको अंदर प्रवेश दे वैसे भी वीआईपी कल्चर इंडिया में शासन ने ही माना है और जिनका अधिकार है वीआईपी का उनको ही मिलना चाहिए लेकिन इस कल्चर से कही विपरीत शारदा देवी धाम में वीआईपी के नाम पर अव्यवस्था ही फैलता नजर आता है, इस मैहर क्षेत्र के जनप्रतिनिधि देश व प्रदेश के अन्य क्षेत्र के धार्मिक नगरी भी घूमने जाते है क्या इसी तरह की व्यवस्था रहती है? शासन प्रशासन से अनुरोध है कि मेला क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए बड़े वाहन व चार पहिया गाड़ियों का स्टैंड दोनों बड़े पार्किंग में किया जाए जिससे सुरक्षा व्यवस्था के साथ देवी धाम में सभी छोटे बड़े दुकानदारों की व्यपार भी बराबर चलता रहे। अभी सबसे ज्यादा रोपवे की ओर बड़े वाहनों के जाने के कारण व्यपार 80 प्रतिशत व्यपार रोपवे की तरफ है और बंधा बैरियल एवम पुलिस चौकी से लेकर डेवढ़ी की तरफ जाने वाली मुख्य मार्ग में व्यपार 20 प्रतिशत ही रह गया है जिससे बहुत से दुकानदारों की स्थिति ठीक नही।

Leave A Reply

Your email address will not be published.