Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

गरीब के पट्टे की जमीन पर दबंग का कब्जा

0 80

शासकीय भूमि को हथियानें की फिराक मे दबंग, हुई शिकायत

एक ओर सरकार गरीबो व असहाय आवासहीन लोगो को शासकीय भूमि से भूखंड काटकर पट्टे वितरित कर उन्हे आवास देने के लिये प्रतिबद्व है वही कुछ रसूखदार व दबंग लोग उनकी जमीन छीन कर हथियाने कि जुगत जमा रहे है और गरीब को जान से मारने की धमकी देने से भी बाज नही आ रहे है । ऐसा ही मामला ग्राम पंचायत मुंगवानी मे भी सामने आया जहां पर दबंग ने गीब की भूमि छीन कर उसे धमकी भी दी । जिसकी शिकायत गरीब आदिवासी द्वारा जिला कलेक्टर से की गई ।
नरसिंहपुर ब्यूरो। एमपी सरकार असहाय व गरीब लोगो को भूमि देकर भवन निर्माण कराकर उन्हे आवास दे रही है वही कुछ रसूखदार गरीबो को धौंस देकर उनसे आवास की शासकीय भूमि भी हथियाने के लिये आतुर है इसी प्रकार का मामला ग्राम पंचायत मुंगवानी में भी सामने आया जहां पर दबंग ने गरीब की पट्टे की भूमि पर अपना कब्जा ठोक लिया और गरीब दर दर भटक रहा है।
जान से मारने की दी जा रही धमकी
ग्राम पंचायत मुंगवानी निवासी आदिवासी गरीब द्वारा शिकायत कर बताया गया है कि आवासहीन होने के कारण शासन द्वारा आवास निर्माण के लिये शासकीय भूमि से पट््टा काटकर दिया गया था जिसमें मेरे द्वारा मकान निर्माण के लिये सामग्री एकत्र की जा रही थी परन्तू उक्त भूमि को ग्राम के ही दबंग द्वारा द्वारा हथिया लिया गया है और मेरे द्वारा एकत्र की सामग्री पर भी कब्जा कर लिया गया है एंव सामग्री छूने पर जान से मारनेकी हिदायत दी गई है ।
मामला इस प्रकार
ग्राम मुंगवानी निवासी संतोष पिता परषेत्तम गौड़ द्वारा जिला कलेक्टर से शिकायत कर बताया कि आवासहीन होने के कारण प्रशासन द्वारा बीते बर्ष ग्राम मंगवानी की आबादी भूमि मे से खसरा नंबर 25 में से 25/25 का आवासीय पट्टा दिया गया था एंव आवास निर्माण के लिये प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास निर्माण के लिये प्रथम किस्त भी प्राप्त हो चुकी है । राशि आहरित करने के बाद मेरे द्वारा निर्माण का लेआऊट भी तैयार कर लिया गया है जिस पर ग्राम के ही दबंग एक ही परिवार के लोग रंजीत पिता नारायण राजौरिया मदन, प्रीतम, गोविन्द नारायण पिता रामदेव राजौरिया द्वारा मुझसे पैसे की मांग की जाने लगी और भूमि से कब्जा छोड़ने की धमकी दी गई कब्जा ना छोड़ने पर जान से मारने की धमकी भी दी गई।
मांगी जा रही अवैध राशि
शिकायतकर्ता द्वारा बताया गया कि ग्राम के ही निवासी राजौरिया परिवार के लोगो द्वारा मुझे निर्माण करने सये रोका गया और पट्टे की भूमि से कब्जा छोड़ने के लिये कहा गया भूमि से कब्जा ना छोड़ने से मना करने पर अवैध राशि की मांग की गई एंव गाली गलौंच करते हुये जान से मारने की धमकी दी गई ।
अधर मे फसा आदिवासी , रूका निर्माण
एक ओर सरकार द्वारा पट्टा प्राप्त मिलने के बाद सरकार द्वारा प्राप्त प्रधानमंत्री आवास की राशि मिलने के बाद स्वंय का आवास होने की खुशी आदिवासी को मिली थी लेकिन उस पर भी ग्राम के ही दबंग की नजर लग गई और आदिवासी गरीब का सपनो का आशियाना बनने के पूर्व ही रूक गया । हालाकि शिकायतकर्ता की माने तो उक्त मकान निर्माण को लेकर प्रशासनिक रूप से कोई आपत्ति नही है लेकिन दबंग के डर के कारण गरीब आदिवासी मकान का निर्माण नही कर पा रहा है । निर्माण कार्य पूरा ना होने के कारण प्रधानमंत्री आवास योजना की दूसरी किस्त भी नही मिल पा रही है ।
राजस्व विभाग कर चुका है सीमांकन
शिकायतकर्ता द्वारा शिकायत मे उल्लेख किया गया है कि वाद विाद होने के उपरांत प्रशासन के निर्देश पर पटवारी व आर आई द्वारा मौके पर जाकर उक्त भूमि का सीमांकन किया जा चुका है एंव निर्माण कार्य करने की अनुमति दी जा चुकी है लेकिन दबंग द्वारा धमकाने के बाद निर्माण करने मे असमर्थ हूं ।
इनका कहना है
उक्त मामले की शिकायत प्राप्त होने के बाद पटवारी एंव आर आई द्वारा मौके पर जाकर भूमि का सीमांकन किया जा चुका है एंव दोनो पक्षो को प्रतिलिपि भी दी जा चुकी है । यदि विवाद हो रहा है तो दोनो पक्षो को न्यायलय की शरण मे जाना चाहिये ।
सुमित जाट
पटवारी मुंगवानी

बीते पखवाड़े में मुंगवानी निवासी संतोष गौंड़ द्वारा प्रधानमंत्री आवास निर्माण में अवरोध उत्पन्न करने व गाली गलौंच करने एंव कब्जा छोड़ने और अवैध पैसे मांगने की शिकायत ग्राम के रंजीत पिता नारायण राजौरिया सहित अन्य चार लोगो की शिकायत की गई थी जो झूठी पाई गई मेरे द्वारा दोनो पक्षो को समझाईस दी गई एंव मामला राजस्व विभाग का होने के कारण पुलिस द्वारा कोई हस्तक्षेप नही किया जा सकता है ।
शिव मंगल सिंह राठौर
थाना प्रभारी मुंगवानी

Leave A Reply

Your email address will not be published.