Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

पुलिया निर्माण कार्य दो वर्षों से पढ़ा अधूरा, फिर होगी परेशानी

0 47

समनापुर व बजाग मुख्यालय को जोड़ने वाली बहु उपयोगी मार्ग पर बन रहे पुलिया निर्माण का मामला

नदं किशोर ठाकुर, डिंडोरी।

जिले के समनापुर व बजाग जनपदों को जोड़ने वाली बहूउपयोगी मार्ग पर कराए जा रहे पुलिया निर्माण कार्य पिछले दो वर्षों से अधूरा पड़ा हुआ है, ठेकेदार व प्रशासन की लापरवाही के चलते पुलिया का निर्माण कार्य पिछले दो वर्षों बाद भी पूरा नहीं किया गया, जिससे ग्रामीण को आवागमन करने में परेशानी का सामना करना पड़ता है, वाहन चालकों को परेशानी होती है। बरसात के दिनों में नदी में ज्यादा पानी होने पर भी मजबूरन लोगों को नदी पार कर अपने विभिन्न कामों के लिए जाना पड़ता है, जान जोखिम में डालकर ग्रामीण भी रोजमर्रा के कार्यों को निपटाते हैं, बावजूद दो वर्षों बाद भी निर्माण कार्य अधूरा होना कई सवाल खड़ा कर रहा है। पुलिया निर्माण कार्य को पूरा करने अभी तक प्रशासन व ठेकेदार द्वारा कोई ठोस पहल नहीं की जा रही, जिससे स्थानीय ग्रामीणों में असंतोष व्याप्त है।

मुख्यालय से ग्रामीणों का टूट जाता है संपर्क स्थानीय ग्रामीणों की माने तो दो जनपदों को जोड़ने वाली बहूउपयोगी मार्ग पर खम्हरिया तिराहा,पाटन तिराहा, कुकरीपोटा नदी सहित एक अन्य स्थान पर प्रशासन द्वारा करोड़ों रुपए खर्च कर पुलिया निर्माण कार्य कराया जा रहा है जो पिछले दो वर्षों से अधूरा पड़ा हुआ है, बरसात के दिनों में मुख्यालय से ग्रामीणों का संपर्क टूट जाता है, नदी उफान पर होने के कारण लोग आवागमन नहीं कर पाते, स्कूली छात्र-छात्राएं भी स्कूल नहीं जा पाती, जान जोखिम में डालकर वाहन चालक डायवर्सन पुल से वाहन निकालते हैं, जिससे खतरे का अंदेशा बना रहता है।ग्रामीणों की माने तो ठेकेदार द्वारा निर्माण कार्य में मनमानी पूर्वक कार्य करवा रहा है, जिससे निर्माण कार्य में देरी हो रही है और लोगों की परेशानी भी बरसात के मौसम में बढ़ गई है।

डायवर्सन पुलों की मरम्मत करवाने की मांग समनापुर से बजाग जनपद मुख्यालय को जोड़ने वाली बहू उपयोगी मार्ग पर बन रहे पुलिया निर्माण कार्य अधूरा होने से लोगों की परेशानी बरसात के दिनों में बड़ जाएगी, लोगों को आवागमन करने में परेशानी का सामना करना पड़ेगा। लोगों ने आस्थाई डायवर्सन पुलों की मरम्मत कार्य करवाए जाने की मांग की गई है,ताकि इमरजेंसी होने पर मार्ग से आवागमन किया जा सके। गौरतलब है कि पिछले साल पाटन तिराहा मैं बनी डायवर्सन पुल ढह जाने से लोगों को आवागमन करने में परेशानी हो रही थी, नदी उफान पर होने के बाद भी सवारी वाहनों को निकाला जा रहा था पिछले साल एक सवारी बस बीच नदी में फंस गई थी, कड़ी मशक्कत के बाद जेसीबी मशीन से बस को निकाला जा सका था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.