Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

फिल्म उद्योग को महाराष्ट्र सरकार ने दिया ईद का तोहफा

0 28

प्रोड्यूसर्स गिल्ड के गाइडलाइंस को महाराष्ट्र सरकार से मिली मंजूरी

शामी एम इरफ़ान की रिपोर्ट मुम्बई। पिछले सोमवार को ईद वाले दिन फिल्म उद्योग के लिए महाराष्ट्र सरकार की ओर से ईद का तोहफा दिया गया। सरकार ने प्रोड्यूसर्स गिल्ड के तैयार गाइडलाइंस को मंजूरी दे दी है। यह गाइडलाइन स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर है। जिसे शूटिंग के वक्त हर प्रोडक्शन हाउस को फॉलो करना है। इसे बनाने में महीने भर से ज्यादा का वक्त लगा है। प्रोड्यूसर्स गिल्ड के पदाधिकारियों ने महाराष्ट्र सरकार का शुक्रिया अदा करते हुए कहा है कि, बहुत जल्द शूटिंग रिज्यूम करने की तारीख भी बताई जाएगी। कुछ दिन पहले टीवी जगत के प्रोड्यूसर्स की भी महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे से मीटिंग हुई थी और उस पर सरकार ने काफी पॉजिटिव रिएक्शन दिए थे। सरकार पोस्ट प्रोडक्शन के काम को भी इजाजत देने का मन बना रही है। 
                    बहरहाल, प्रोड्यूसर्स गिल्ड के गाइडलाइंस के तहत कॉस्टयूम डिपार्टमेंट, साउंड, कैमरा, इलेक्ट्रिकल, कैटरिंग,हाइजीन साउंड, स्टूडियो, वॉइस ओवर आर्टिस्ट, आर्ट डायरेक्टर, हेयर, मेकअप, कॉस्टयूम फिटिंग, कास्टिंग, मेडिकल असिस्टेंट से लेकर सुरक्षा के सारे इंतजामों पर 37 पन्नों का गाइडलाइन तैयार किया गया है। जिसके तहत आगे से अब कास्टिंग या तो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के थ्रू होगी या फिर एक्टर खुद से सेल्फ टेप उपलब्ध कराएगे। लोकेशन पर जाने के लिए गाड़ियां शेयर की जाएंगी। इनडोर लोकेशन पर शू कवर यूज करना होगा। हर कलाकार के कपड़े को प्लास्टिक कवर में हैंगर पर टांग उनके नाम का टैग लगा कर रखा जाएगा। आर्टिस्ट के कॉस्ट्यूम फिटिंग का काम सेट पर ही शूटिंग वाले दिन ही किया जाएगा। हेयर और मेकअप वाले उपयुक्त मास्क लगाए रखेंगे। एक्टर्स और एक्स्ट्रा के लिए अलग मास्क के इंतजाम रखने होंगे। आर्ट डायरेक्टर सबसे बड़ा डिपार्टमेंट होता है फिल्म मेकिंग का। उनकी टीम में भी कम लोगों के साथ काम करना होगा। सेट बनाने से पहले लोकेशन को सैनिटाइज किया जाएगा। वार्डरोब डिपार्टमेंट में पेशेवर लॉन्ड्री वालों को हायर करना होगा। ओजोन वाशिंग मशीन में गारमेंट्स को धोया जाएगा। गारमेंट ऐसे सप्लायर से लेने होंगे जो डिसइन्फेक्शन सर्टिफिकेट जारी कर सकें।
                इतना ही नहीं, कलाकार को दिए जाने वाले कपड़े आपस में एक्सचेंज नहीं किए जाएंगे। अदला बदली भी तब होगी, जब उन्हें सही तरीके से डिसइनफेक्ट किया जाएगा। कलाकार चाहें तो ‘सेकंड स्किन ओवरऑल्स’ भी यूज कर सकते हैं, ताकि उनके शरीर का कांटेक्ट कॉस्टयूम से ना हो। हर सीन की शूटिंग के बाद प्लास्टिक बूम कवर को बदला जाएगा। अगर एक सीन में ज्यादा एक्टर हो तो लैपल माइक के बजाय प्लास्टिक बूम का इस्तेमाल करवाया जाएगा।
               स्क्रिप्ट सुपरवाइजर काला, एक्टर -कैमरामैन- मेकअप प्रोफेशनल पीले कलर के बैंड पहनकर सेट पर रहेंगे, ताकि उन्हें आसानी से पहचाना जा सके। आर्टिस्ट और स्टार्स के स्टाफ को स्टूडियो में आने की अनुमति नहीं रहेगी। जब तक कि कोई इमरजेंसी ना हो। वह बाहर ही रहेंगे। एनआरआई वाली ऑडियंस को रियलिटी शो में नहीं रखा जाएगा। अलग-अलग शहरों और देशों के गेस्ट को शो की शूटिंग के दौरान नहीं रखा जाएगा। ऑडियंस पहले जितनी होती थी, उसका 50 फ़ीसदी ही शूटिंग के दौरान रखा जाएगा।
                बता दें कि, इसी बीच भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय के लिए बाॅलीवुड एक्टर अक्षय कुमार और निर्देशक आर बाल्की ने कोविड-19 से सुरक्षा से संबंधित एक शॉर्ट फिल्म की शूटिंग मुम्बई के कमालिस्तान स्टूडियो में करी है। अभिनेता अक्षय कुमार स्वच्छ भारत अभियान के ब्रांड एंबेसडर भी हैं। इसमें लोगों को स्वच्छता पर जागरूक करने के लिए एक संदेश है। चूँकि यह शाॅर्ट फिल्म भारत सरकार मंत्रालय के लिए बन रही थी, इस लिए मुंबई के पुलिस कमिश्नर से अनुमति शूटिंग के लिए मिल गई थी अन्यथा जब तक लाॅकडाउन लिफ्ट नहीं होता शूूूटिंग की शुरुआत संभव नहीं। (वनअप रिलेशंस)

Leave A Reply

Your email address will not be published.