Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

मां रेवती काॅलेज में सम्पन्न हुआ वार्षिकोत्सव

0 18

छात्र-छात्राओं ने दी मनमोहक प्रस्तुती हुआ, पुरूस्कार वितरण

मंडला। 26 फरवरी को मां रेवती काॅलेज आॅफ एजुकेषन में वार्षिकोत्सव सम्पन्न हुआ। यह कार्यक्रम डाॅ. जगदीष चन्द्र जाटिया कलेक्टर मंडला के मुख्य आतिथ्य एवं पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार शुक्ला मंडला के विषिष्ट आतिथ्य सरदार पटेल विष्वविद्यालय के प्रो. वाइस चांसलर वीरेष्वर सिंह, डाइट प्राचार्य के.एस. सूर्याम, संजय तिवारी समाज सेवी, विंध्य षिक्षा समिति कालेज के प्राचार्य आषीष ज्योतिषी, समिति के अध्यक्ष षिवकुमार चैबे एवं समिति की सचिव श्रीमति कृष्णा चैबे एवं महाविद्यालय के संचालक अभिषेक चैबे की अध्यक्षता मे सम्पन्न हुआ।
अतिथियों के द्वारा महाविद्यालय प्रांगण में मां सरस्वती जी की प्रतिमा का अनावरण एवं दीप-प्रज्जवलन किया गया। उसके बाद सम्मानीय अतिथियों का स्वागत पुष्पगुच्छ के द्वारा किया गया। तत्पश्चात् महाविद्यालय की पत्रिका ‘रेवा दर्पण’ का विमोचन करने के पष्चात् छात्र-छात्राओं को पुरूस्कार वितरण किया गया।
स्वागत समारोह के बाद समारोह के मुख्य अतिथि डाॅ. जटिया कलेक्टर मंडला ने कहा कि मां रेवती कालेज आॅफ एजुकेषन का आभार है जो इस पिछड़े जिले में छात्र/छात्राओं को व्यवसायिक पाठयक्रम उपलब्ध कराकर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने में अपना योगदान दे रहे है।
डसके बाद विशिष्ट अतिथि एस.पी ने कहा आज इस कार्यक्रम को देखकर उसे अपने काॅलेज के दिन याद आ गये/ छात्र-छात्राओं का उत्साह देखकर में प्रभावित हुआ हॅंॅू। आषा है आप सभी जिले का नाम रोषन करेंगे।
इस दौरान राजस्थानी नृत्य ,कर्मा नृत्य, मराठी नृत्य (एकल नृत्य),षास्त्रीय नृत्य, काॅलेज लाईफ ड्रामा, पारिवारिक नाटक, वेस्टर्न डांस, पुराने गानों के संग्रह पर नृत्य, देष-भक्ति गीत आदि कार्यक्रम संपन्न हुये।
कार्यक्रम मे थल सेना संबंधी मंचन ‘आर्मी एक्ट’ किया गया जिसमें सीमा पर यु़द्ध करते हुये सीमा पर मरणोपरांत उनके घर में या सैन्य परिवार में इस प्रकार की स्थिति बनती है इसका मंचन किया गया। जिसके कारण दर्षक ब्रिंद भावुकतावष अश्रु धारा बहाने लगे। अब महिला सषक्तिकरण के लिए तेजाब से होने वाले दुष्परिणामों को प्रदर्षित किया गया। अंत में सभी का आभार प्रदर्षन चारू शुक्ला ‘उद्घोषक’ द्वारा किया गया।
इस कार्यक्रम को सफल बनाने में महाविद्यालय के समस्त छात्र-छात्राओं एवं महाविद्यालय समस्त प्राध्यापक आर.सी शुक्ला, रष्मि साहू, आकांक्षा तिवारी, आषा श्रीवास्तव, प्रियंका चैरसिया, दीक्षा कछवाहा, आकांक्षा चैरसिया, भावना चैरसिया,षिखा सोनी, नंदा लिमकर, सुषमा विलियम, सुधीर यादव, संजय अग्रवाल, गोकुल पटैल एवं महाविद्यालय के कर्मचारीयों का योगदान रहा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.