Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

मुंबई की प्रोफेसर अलका भुजबल को शिवरत्न पुरस्कार से जाहिर

0 71

मुंबई, रिपोर्ट : के .रवि ( दादा ) . खुद की अच्छी पहचान समाज के समक्ष कर , अनुठा कर्म अक्सर बजाते रहने के कारण अलका भुजबल जी को महाराष्ट्र शिवरत्न पुरस्कार 2020 से नवाजा जा रहा है .ऐसा इस पुरस्कार समिति के अध्यक्ष श्री . नंदकुमार पाटील जी ने कहा है . शानदार सनमानचिन्ह , मानपत्र , राजमुद्रा पदक , जीवनकार्य विशेषांक , छत्रपति शिवाजी महाराज जीवन ग्रंथ ऐसा अं पुरस्कारों का स्वरूप है ,ज्यो अलका भुजबल जी को पुरस्कृत किया जाना है . मानव सेवा फाउंडेशन , आखिल भारतीय मराठी साहित्य परिषद् ,डी पॉवर ऑफ मिडिया जैसे संस्था के संयुक्त तत्वावधान से यह पुरस्कार बुधवार 19 फ़रवरी 2020 के दिन पुना के नवी पेठ पत्रकार भवन में दोपहर दो बजे अलका भुजबल जी को दिया जाएगा . बहुमुखी छबी की अलका जी अभिनय , क्रीड़ा , आरोग्य जनजागृति , सामाजिक कार्य और प्रसार माध्यमों जैसे अनेकों क्षेत्र में सदा सक्रिय रहती हैं . उन्होंने स्वयं जिज्ञासा , बंदिनी , आईं ,दामिनी , है बंद रेशमाचे और पोलिसातिल माणुस नामक मराठी मशहूर टी व्ही
मालिकावो में विभिन्न भूमिकाएं निभाई हैं .दो साल पहले अलका जी को बच्चेदानी में कैंसर का शकुन हो गया .तब वे हाल ही अमरीका से भारत पहुंची थी .इस खतरनाक परिस्थिति में भी अलका जी न डगमगाते हुए बड़ी धीरजता से मुंह तोड़ जवाब दिया . जिससे सभी डॉक्टर प्रभावित हुए .इसपर डिंपल पीब्लिकेशन ने कॉमा नामक किताब प्रकाशित की है .जिसको पाठको का बड़ा प्रतिसाद मिल था हैं . इतनाही नहीं तो अलका भुजबल जी के संघर्ष पर आधारित कॉमा नामक सुचनापट को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगतसिंग कोश्यारी जी के हाथो हाल ही में राजभवन में संपन्न हुआ .जिसके लेखक है आशीष निरगुरकर ,अलका जी के पति देवेन्द्र भुजबल जी की संकल्पना से कॉमा किताब एवं
सुचनापट लोगो तक पहुंचे .अलका जी के इस सफल कदम की सभी जगह से सराहनीय बोल निकल रहे है ,उनके इस काम को अनगिनत बधाइयां .

Leave A Reply

Your email address will not be published.