Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

राज्यसभा सदस्य ने कांग्रेस पिछड़ा वर्ग के पदाधिकारियों के साथ की ऑनलाइन चर्चा

0 46

राज्यसभा सदस्य राजमणि पटेल ने कांग्रेस पिछड़ा वर्ग विभाग के पदाधिकारियों के साथ की ऑनलाइन बैठक

जबलपुर।मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी पिछड़ा वर्ग विभाग के प्रदेश अध्यक्ष राजसभा सदस्य राजमणि पटेल द्वारा ज़ूम ऐप के माध्यम से प्रदेश पदाधिकारियों एवं जिला अध्यक्षों की बैठक आयोजित की । बैठक में प्रदेश के अधिकांश प्रदेश पदअधिकारियों एवं जिला अध्यक्षों ने बताया कि पिछड़े वर्ग के पदाधिकारियों को कांग्रेस संगठन एवं निर्वाचित विधायकों द्वारा क्षेत्रों में किए जाने वाले कार्यक्रमों में उनसे कोई सुझाव व सहयोग नहीं लिया जाता एवं न ही कोई महत्व दिया जाता। कोरोना महामारी के समय पिछड़े वर्ग के पदाधिकारियो गरीब जरूरतमंद की मदद के लिए शासन प्रशासन से जब पास की मांग की जाती है ।कोई सहयोग न मिलने के कारण हमें बिना पास के सीमित साधनों के माध्यम से ही सहयोग कर रहे हैं।
जबलपुर से प्रदेश प्रवक्ता टीकाराम कोष्टा ने कहा कि लॉक डाउन के कारण जिनके व्यपार,व्यवसाय, काम धंधा बंद हैं।उन सभी के 3 माह के बिजली के बिल एवं उनके बच्चों के स्कूल की फीस माफ की जावे।
मध्य प्रदेश पिछड़ा वर्ग विभाग प्रदेश अध्यक्ष राज सभा सदस्य राजमणि पटेल ने कहा कि समस्याओं एवं पार्टी के संबंध में जो सुझाव आए हैं। लॉक डाउन के कारण कोरोना महामारी के समय गरीब आदिवासी ,मजदूरों, पिछड़े वर्ग से जुड़े लोगों के काम धंधों के अलावा बीमारी से प्रभावित हुए। कितने लोगों की जाने गई, उन्हें प्रदेश सरकार से क्या सहायता मिली । जिन क्षेत्रों में अभी तक मनरेगा का काम अभी चालू जबलपुर।मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी पिछड़ा वर्ग विभाग के प्रदेश अध्यक्ष राजसभा सदस्य राजमणि पटेल द्वारा ज़ूम ऐप के माध्यम से प्रदेश पदाधिकारियों एवं जिला अध्यक्षों की बैठक आयोजित की । बैठक में प्रदेश के अधिकांश प्रदेश पदअधिकारियों एवं जिला अध्यक्षों ने बताया कि पिछड़े वर्ग के पदाधिकारियों को कांग्रेस संगठन एवं निर्वाचित विधायकों द्वारा क्षेत्रों में किए जाने वाले कार्यक्रमों में उनसे कोई सुझाव व सहयोग नहीं लिया जाता एवं न ही कोई महत्व दिया जाता। कोरोना महामारी के समय पिछड़े वर्ग के पदाधिकारियो गरीब जरूरतमंद की मदद के लिए शासन प्रशासन से जब पास की मांग की जाती है ।कोई सहयोग न मिलने के कारण हमें बिना पास के सीमित साधनों के माध्यम से ही सहयोग कर रहे हैं।
जबलपुर से प्रदेश प्रवक्ता टीकाराम कोष्टा ने कहा कि लॉक डाउन के कारण जिनके व्यपार,व्यवसाय, काम धंधा बंद हैं।उन सभी के 3 माह के बिजली के बिल एवं उनके बच्चों के स्कूल की फीस माफ की जावे।
मध्य प्रदेश पिछड़ा वर्ग विभाग प्रदेश अध्यक्ष राज सभा सदस्य राजमणि पटेल ने कहा कि समस्याओं एवं पार्टी के संबंध में जो सुझाव आए हैं। लॉक डाउन के कारण कोरोना महामारी के समय गरीब आदिवासी ,मजदूरों, पिछड़े वर्ग से जुड़े लोगों के काम धंधों के अलावा बीमारी से प्रभावित हुए। कितने लोगों की जाने गई, उन्हें प्रदेश सरकार से क्या सहायता मिली । जिन क्षेत्रों में अभी तक मनरेगा का काम अभी चालू नहीं किया गया है। नाई, धोबी, दर्जी ,ऑटो रिक्शा चालक लॉक डाउन के कारण व्यापार बंद रहे हैं। उन्हें सरकार द्वारा तत्काल ₹10 हजार प्रतिमाह आर्थिक मदद गरीबों के खाते में डाली जावे। उपरोक्त विषयों को लेकर संबंधित अधिकारियों को ज्ञापन सौंपे और होने वाले 24 विधानसभा उपचुनाव में पिछड़े वर्ग के तमाम साथी पार्टी प्रत्याशी जो भी हो उसे विजयी बनाने जुट जावे। खाते में डाली जावे। उपरोक्त विषयों को लेकर संबंधित अधिकारियों को ज्ञापन सौंपे और होने वाले 24 विधानसभा उपचुनाव में पिछड़े वर्ग के तमाम साथी पार्टी प्रत्याशी जो भी हो उसे विजयी बनाने जुट जावे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.