Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने हाइवे में किया दुर्घटना संभावित स्थलों का निरीक्षण

0 184

हाइवे में दुर्घटना रोकने के लिए सभी संभव उपाय किए जाएंगे

रीवा। बनारस को जोड़ने वाले नेशनल हाइवे में कई स्थलों पर बार-बार सड़क दुर्घटनाएं हो रही हैं। सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कलेक्टर मनोज पुष्प तथा पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने रीवा से लेकर हनुमना तक हाइवे के दुर्घटना संभावित स्थलों का निरीक्षण किया। इस संबंध में कलेक्टर ने बताया कि हाइवे में दुर्घटनाओं को रोकने के लिए हर संभव उपाय किए जाएंगे। हाइवे की सर्विस रोड से अवैध कब्जा हटाने, गिट्टी पत्थर तथा अन्य वस्तुओं के अवैध भण्डारण को जब्त करने एवं अवैध रूप से बनाए गए रोड डिवाइडर के कट्स बंद करने की कार्यवाही की जा रही है। दुर्घटनाओं को रोकने के लिए सड़क निर्माण से जुड़े विभाग आवश्यक निर्माण कार्य कराएंगे। जिन स्थलों पर हाइवे से अन्य मार्ग आकर जुड़ते हैं वहाँ मोड़ से कुछ पहले स्पीड ब्रोकर बनाने तथा प्रकाश की पर्याप्त व्यवस्था के लिए आवश्यक प्रबंध करने के निर्देश दिए गए हैं। डिवाइडर पर अवैध कट्स बनाने वालों पर एफआईआर दर्ज करके कार्यवाही की जाएगी।
कलेक्टर तथा पुलिस अधीक्षक ने अधिकारियों के साथ सबसे पहले मनगवां बस्ती तिराहे का निरीक्षण किया। तिराहे से अवैध निर्माण हटाने के निर्देश एसडीएम मनगवां को दिए गए। कलेक्टर ने कहा कि रोड क्रासिंग के दोनों ओर 50 मीटर तक बसों और ऑटो रिक्शा खड़ा करके अवैध रूप से सवारी चढ़ाने-उतारने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाएं। प्रतिबंध का उल्लंघन करने वाले वाहनों के विरूद्ध परिवहन अधिकारी चालानी कार्यवाही करें। कलेक्टर ने एमपीआरडीसी तथा नेशनल हाइवे के अधिकारियों को मनगवां में स्वीकत ओवरब्रिाज का निर्माण कार्य तत्काल शुरू कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने टिकुरी मोड़, रघुनाथगंज मोड़, पलिया दुबान, डगडौआ, पलिया, पकरा मोड़ तथा मऊगंज में अवैध रूप से बनाए गए कट्स बंद करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने हाइवे तथा सर्विस रोड से वाहनों के आवागमन की सभी बाधाएं दूर करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के समय जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्वप्निल वानखेड़े, एसडीएम मऊगंज एपी द्विवेदी, एसडीएम मनगवां संजीव पाण्डेय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मऊगंज विवेक लाल, जिला परिवहन अधिकारी मनीष त्रिपाठी, खनिज अधिकारी रत्नेश दीक्षित, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण केके गर्ग तथा अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.