Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

खनिज एवं राजस्व विभाग की संयुक्त कार्यवाही से रेत माफियाओं में हड़कंप

कार्यवाही के दौरान 850 हाईवा रेत जब्त

0 42

जबलपुर दर्पण संवाददाता। आज राजस्व विभाग एवं खनिज विभाग के अमले ने पाटन तहसील के ग्राम कोनी से पौंडीकला मार्ग पर रेत के अवैध भण्डारण की सूचना मिलने पर बड़ी कार्यवाही करते हुये लगभग 850 हाईवा रेत जब्त की है। खनिज निरीक्षण अधिकारी दीपा बारेवार के अनुसार ग्राम कोनी से पौंडीकला मार्ग पर सड़क किनारे अलग-अलग ढेरों में अनुमानित 650 हाईवा रेत तथा ग्राम पौंडीकला में निजी भूमि पर करीब 200 हाईवा रेत पाई गई थी। खनिज निरीक्षक के मुताबिक रेत को जब्त कर इसका अवैध भण्डारण करने वालों के बारे में जानकारी एकत्र की जा रही है।
कार्यवाही खनिज विभाग के उड़नदस्ता प्रभारी ओपीएस भदौरिया, नायब तहसीलदार पाटन सुरभि जैन, खनिज निरीक्षक दीपा बारेवार तथा राजस्व विभाग के स्थानीय अमले के द्वारा की गई थी इस बड़ी कार्यवाही से रेत माफियाओं में हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गई है। प्रशासन को चाहिए जप्त की गई रेत को जल्द से जल्द नीलाम करे उक्त रेत खरीदने वाले ठेकेदार की होगी फिर माफियाओं के द्वारा वह रेत उठा पाना संभव नही होगा एवं शासन प्रशासन को भी जप्त रेत से राजस्व प्राप्त होगा हमेशा देखने में आया है कि जब भी इस तरह की कार्रवाई होती है। और जो रेत प्रशासन के द्वारा जप्त की जाती है। वह रेत माफियाओं के द्वारा रात के अंधेरे में अपने वाहनों की मदद से जबलपुर जिले की सीमा से दूर दमोह जिले की सीमा मे शिफ्ट कर दिया जाता हैं। चूकी दोनो जिलों की सीमा की दूरी पाटन से महज 10 किलोमीटर है।एवं फिर जबलपुर जिले एवं पाटन का प्रशासनिक अमला कुछ नहीं कर पाता है।यह विवाद जिलो की सीमा की भेंट चड जाता है। इसी का फायदा रेत माफियाओं के द्वारा उठाया जाता है। एवं कुछ दिनों के बाद प्रशासन को जप्त की हुई रेत नहीं मिलती है और यही जप्त रेत फाइलों में दब जाती है। और सारे मामले को रफा-दफा कर दिया जाता है। प्रशासन को चाहिए जप्त की गई रेत को जल्दी से जल्दी नीलाम करें एवं जब तक रेत की नीलामी नही होती है। जप्त की गई रेत की, सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था की जाए जिससे रात के अंधेरे में जप्त की गई रेत के भंडारण को कोई उठा ना पाए

Leave A Reply

Your email address will not be published.