Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

नाजायज अतिक्रमणों ने घेरे सरकारी स्कूल

0 6

शालाओं के आसपास अतिक्रमण को मिल रही मौन स्वीकृति

मध्यप्रदेश अधिकारी कर्मचारी संयुक्त संगठन के जिला अध्यक्ष दिलीप सिंह ठाकुर के अनुसार शासकीय शालायों के आसपास नायजाज अतिक्रमण होने के कारण विद्यालय के छात्र- छात्राओं में भय का वातावरण बना हुआ है।आवंछनीय तवत डेरा डाले हुए रहते है छीटाकशी तो आम बात हो गयी अब तो मर्यादा लाँघ रहें है। जिम्मेदार मौन है सब कुछ जानते हुए भी छुटभइये नेताओं के चमचों से डर कर कोई कार्यवाही नहीं करना चाहते। नगर निगम सीमा के अनेक स्कूलों के आसपास चायपान आदि के टपरों की बाड़ लगीं है । जिसके कारण छात्राओं को शाला में आने जाने के समय कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा परेशान किया जाता है जिससे शाला में उनकी उपस्थिति पर प्रभाव पड़ता है एवं कुछ छात्राओं को तो भय के कारणों से आगे की पढ़ाई तक छोड़ना पड़ती है। अतः स्थानीय प्रशासन एवं नगर निगम प्रशासन से मांग है कि ऐसी शालाओं को चिन्हित कर वहां के आसपास चायपान टपरों आदि का अतिक्रमण हटा कर पेड़ पौधे लगाकर फैंसिंग करें ताकि दुबारा ऐसे अतिक्रमण ना हो, छात्र छात्रा भयमुक्त वातावरण में प्रतिदिन शतप्रतिशत उपस्थिति के साथ शाला आ सकें। संगठन के पुष्पा रघुवंशी,चंद्रभान साहू,अरविन्द विश्वकर्मा,चंदा सोनी,ऋषि पाठक, राकेश मून, भास्कर गुप्ता,गीता कोल, राजेश्वरी दुबे,अफ़रोज़ खान,अर्चना भट्ट, सरोज कोल ने मांग की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.