Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित हुई, आईटीआई प्राचार्यों के साथ कलेक्टर की बैठक

0 123

डिंडौरी, जबलपुर दर्पण न्यूज। जिला कलेक्टर विकास मिश्रा ने आईटीआई के आगामी सत्र के संबंध में प्राचार्यों की बैठक का आयोजन किया। उन्होंने वर्तमान सत्र में चल रहे नामांकन की स्थिति का जायजा लिया। प्राचार्यों द्वारा आईटीआई के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि डिंडौरी और शहपुरा के शासकीय आईटीआई कॉलेजों में छः ट्रेड के लिए एडमिशन प्रक्रिया प्रारंभ है जिसकी अंतिम तिथि 20 मई 2024 है। दोनों कॉलेजों में विद्यार्थियों द्वारा एडमिशन लिए जा रहे हैं जिसमें अलग-अलग ट्रेडों की अर्हता भिन्न हैं। प्राचार्यों ने बताया कि आगामी सत्र से शासकीय आईटीआई कॉलेज करंजिया में इलेक्ट्रीशियन की 20 सीट, शासकीय आईटीआई कॉलेज मेंहदवानी में कम्प्यूटर ट्रेड कोपा की 24 सीट, शासकीय आईटीआई समनापुर में ड्रेस मेकिंग ट्रेड की 20 सीटें, शासकीय आईटीआई अमरपुर में सोलर तकनीशियन की 20 सीट, शासकीय आईटीआई बजाग में फिटर ट्रेड की 20 सीटों पर एडमिशन प्रारंभ हो चुके हैं।कलेक्टर श्री विकास मिश्रा ने निर्देश देते हुए कहा कि क्षेत्र के ऐसे विद्यार्थी जिन्हें भविष्य के बारे में स्पष्टता नहीं है उनके लिए आईटीआई से होने वाले लाभों को निचले स्तर तक पहुंचाए। जिससे कि उन्हें एक बेहतर भविष्य मिल सके। कलेक्टर श्री मिश्रा ने इस कार्य हेतु जन अभियान परिषद और पेसा मोबेलाइजर को निर्देशित किया कि वे निचले स्तर में जाकर आईटीआई के महत्व को विद्यार्थियों तक पहुंचाएं। कलेक्टर श्री मिश्रा ने कहा कि आईटीआई कौशल क्षमता प्रदर्शित करने का एक माध्यम है इसलिए विद्यार्थियों के सृजनात्मक प्रतिभा को बाहर निकालने का प्रयास करें। कलेक्टर श्री मिश्रा ने आईटीआई कॉलेजों में प्रयोगशाला में सुधार करने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को विज्ञान और तकनीक से संबंधित भ्रमण करवाएं जिससे उनकी अभिक्षमता में वृद्धि हो सके। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के मध्य प्रतिस्पर्धा के माध्यम से कौशल बढ़ाने का प्रयास करें। प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले को 15 अगस्त के दिन जिला प्रशासन के द्वारा सम्मानित किया जाएगा। कलेक्टर श्री मिश्रा ने आईटीआई के बाद मिलने वाले रोजगार अवसरों के बारे में विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करने का निर्देश दिया जिससे उनके भविष्य की राह आसान हो सके। उक्त बैठक में एडीएम सरोधन सिंह, महिला बाल विकास अधिकारी श्याम सिंगौर, शासकीय आईटीआई के प्राचार्य और ट्रेनर सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.