Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

नेहा जोशी निभायेंगी एण्डटीवी के ‘अटल‘ में कृष्णा देवी वाजपेयी का किरदार

0 13

जबलपुर दर्पण ।एण्डटीवी द्वारा अपने नये शो ‘अटल‘ की घोषणा के बाद से ही इंडस्ट्री में इसके प्रमुख किरदारों को निभाने के लिये चुने जाने वाले कलाकारों को लेकर काफी अटकलें लगाई जा रही हैं। इस शो में स्वर्गीय प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के बचपन के अनसुने पहलुओं को प्रदर्शित किया जायेगा। हाल ही में टेलीविजन की मशहूर अभिनेत्री नेहा जोशी को छोटे अटल की मां कृष्णा देवी वाजपेयी का किरदार निभाने के लिये चुना गया है। यूफोरिया प्रोडक्शन्स द्वारा निर्मित इस शो में अटल के एक लीडर के रूप में उभरने वाले सालों को गहराई से दिखाया जायेगा, जिन्होंने भारत की तकदीर लिखने में एक बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। भारत में ब्रिटिश शासन की पृष्ठभूमि पर आधारित इस शो में अटल बिहारी वाजपेयी के बचपन की कहानियां दिखाई जायेंगी और उन घटनाओं, मान्यताओं एवं चुनौतियों पर रौशनी डाली जायेगी, जिन्होंने उन्हें एक लीडर के रूप में गढ़ा।अपने किरदार के बारे में विस्तार से बताते हुये नेहा जोशी ने कहा, ‘‘नन्हें अटल की मां कृष्णा देवी वाजपेयी की महत्वपूर्ण भूमिका को निभाने का मौका पाकर मैं कितना गौरवान्वित महसूस कर रही हूं, उसे शब्दों में बयां नहीं कर सकती। इतिहास और राजनीति कृष्णा देवी का पैशन है, लेकिन इसके बावजूद वह अपने पति वाजपेयी जी की एक समर्पित समर्थक भी बनीं। अपने परिवार में सामंजस्य को बरकरार रखना उनकी जिंदगी का मिशन है और वह अपने पति के हर फैसले में पूरी दृढ़ता से उसके साथ खड़ी है। अपने दृढ़ संकल्प और गहरी धार्मिक प्रतिबद्धता के साथ वह चुपचाप ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन का विरोध करती है और पूरे उत्साह के साथ भारत की आजादी की कामना करती है। कृष्णा वह आधार है, जिस पर उसका बेटा निर्भर है और उसकी अथक दृष्टि एवं यथास्थिति पर सवाल उठाने की प्रवृत्ति उसे अपनी मां से ही विरासत में मिली है। वह अपने विचारों को शायद दुनिया के सामने व्यक्त नहीं कर पाये, लेकिन उसकी दिली-तमन्ना है कि वह अपने प्यारे वतन भारत को गुलामी की बेड़ियों से मुक्त होता देखे। अपने परिवार के प्रति उसकी अडिग प्रतिबद्धता, औपनिवेशिक शासन के खिलाफ अनकहा विरोध और अपने बेटे का भविष्य बनाने में उसकी प्रभाशाली भूमिका कृष्णा के किरदार को असाधारण बनाती है।नेहा जोशी ने ‘अटल‘ की कहानी के बारे में बताते हुये आगे कहा, ‘‘इस शो की कहानी नन्हें अटल के अपनी मां के साथ संबंधों को बयां करेगी, जो उसकी मान्यताओं, मूल्यों और विचारों से काफी गहराई से प्रभावित थी। एक ओर, भारत ब्रिटिश राज का गुलाम बना हुआ था और दूसरी ओर देश संपत्ति, जाति और भेदभाव को लेकर आंतरिक संघर्ष एवं विभाजन भी झेल रहा था। अटल की मां ने एक अखंड भारत का सपना देखा था और अटल की आंखों में भी अपनी मां के सपने को पूरा करने का ख्वाब बसा था। इस शो में अटल बिहारी वाजपेयी के एक विनम्र बच्चे से लेकर भारत के एक सबसे प्रमुख नेता बनने तक की एक प्रेरणादायक कहानी दखाई जायेगी।‘‘

Leave A Reply

Your email address will not be published.